राजगढ़ (नईदुनिया न्यूज)। कोरोना महामारी में मास्क ही फिलहाल बचाव का एकमात्र रास्ता है। मास्क लगाने से जीवन बचाया जा सकता है और हर व्यक्ति को मास्क का उपयोग करना ही चाहिए। बीते एक सप्ताह से नगर में आए दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। कुछ ही दिनों में एक दर्जन से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। पुलिस प्रशासन द्वारा प्रतिदिन बगैर मास्क घूमने पर लोगों के चालान बनाकर उन्हें हिदायत दी जा रही है। बावजूद लोग लापरवाही करने से नहीं चूक रहे हैं। बुधवार को स्वास्थ्य विभाग सरदारपुर द्वारा 117 लोग का रेपिड एंटीजन टेस्ट किया गया था। इसमें से नगर के सुभाष मार्ग निवासी बुजुर्ग दंपती की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

...तो आप दे रहे हैं देश का साथ

डॉ. राहुल कुलथिया ने कहा कि कोरोना जैसी बीमारी को हराने का जिम्मा हर नागरिक का है। मास्क पहनने से इस बीमारी को हराया जा सकता है। यदि आप मास्क का उपयोग करते हैं, तो कहीं ना कहीं देश का साथ दे रहे हैं। मास्क का इस्तेमाल हर किसी को करना चाहिए।

एक मास्क, एक जिंदगी

तहसीलदार प्रेमनारायण परमार ने बताया कि एक मास्क यदि एक महत्वपूर्ण जिंदगी बचा सकता है, तो इसे पहनने में कोई हर्ज नहीं होना चाहिए। ग्रामीण इलाकों अब भी जागरूकता का अभाव है। प्रशासन को गांवों में ंमुहिम चलाकर लोगों को जागरूक करना चाहिए।

मानव जीवन अमूल्य, मास्क पहनकर बचाए

दत्तीगांव निवासी तोलसिंह पटेल ने कहा कि मानव जीवन बेहद अमूल्य है। कोरोना जैसी बीमारी से इसे बचाने का वर्तमान में जो रास्ता दिख रहा है, वह सिर्फ और सिर्फ मास्क है। मास्क पहनने से कोरोना से तो बचाव होगा ही, धूल और धुएं से शरीर के अंगों पर असर होने से बचाव होगा।

मास्क समझदारी का सूचक

धुलेट निवासी बाबूलाल चौधरी ने बताया कि कोरोना काल में मास्क पहनना मजबूरी नहीं, बल्कि समझदारी का सूचक है। लोगों को समझदारी का परिचय देते हुए मास्क पहनना चाहिए। यदि हम स्वस्थ्य रहेंगे, तो पूरा परिवार और आसपास के लोग सुरक्षित रहेंगे।

आठ दिन में नौ संक्रमित, फिर भी लोग बेखौफ होकर बरत रहे लापरवाही

कुक्षी/सुसारी। नईदुनिया न्यूज। नगर में पिछले आठ दिन में कोरोना के नौ केस आ चुके हैं, लेकिन कोरोना को लेकर लापरवाही का दौर जारी है। ग्रामीण क्षेत्रों से नगर में आने वाले लोग इतने बेखौफ हैं कि जैसे कोरोना ने विदाई ले ली हो। इस तरह की लापरवाही आने वाले दिनों में ग्रामीण इलाकों को भी कोरोना की चपेट में ले लेगी।

कोरोना संक्रमण की शुरुआत के समय नगर के साथ तहसील के डेहरी, पिपलिया, निसरपुर, सुसारी, सिलकुआं, अंबाड़ा, तलवाड़ा आदि छोटे गांव कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। यहां 10 से लेकर 25 कोरोना केस हो चुके हैं। उसके बाद भी तहसील के इन गांवों में लोग शासन की गाइड लाइन का पालन नहीं करते हुए बेखौफ होकर घूम रहे हैं। लोग मास्क व शारीरिक दूरी का पालन करना पूरी तरह भूल चुके हैं। प्रशासन भी सिर्फ कुक्षी में ही बिना मास्क घूमने वाले लोगों पर चलानी कार्रवाई करता है। छोटे कस्बों में अभी तक किसी तरह की हलचल नहीं देखी गई है।

ग्रामीण जितने बेखौफ, उतना जोखिम

कुक्षी के सिविल अस्पताल, नगर परिषद कार्यालय, गायत्री मंदिर व सुतार मोहल्ला क्षेत्र में प्रतिदिन ग्रामीण क्षेत्रों से रिक्शा व छोटे वाहनों में 20 से 50 लोग बैठकर आते हैं। इनमें न तो किसी तरह का शारीरिक दूरी का पालन होता है और न ही कोई मास्क पहना नजर आता है। इसके बाद ये लोग नगर में बेफिक्री से लोग घूमते हैं। ऐसे में कुक्षी शहर से कोरोना आने वाले दिनों में ग्रामीण इलाकों में न पहुंच जाए।

धामनोद में चार संक्रमित और मिले, दो दिन में पांच मामले

धामनोद। कोरोना संक्रमण को लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रतिदिन जांच कर रही है। बुधवार को 29 लोगों की रेपिड एंटीजन किट से जांच की गई। इसमें चार लोग संक्रमित पाए गए। स्वास्थ्य विभाग के अशोक पटेल ने बताया कि चार संक्रमितों में महेश्वर,चंदावड व नगर के वार्ड क्रमांक तीन सहित एक अन्य जगह से संक्रमित मिला है। एक दिन पहले हुई जांच में भी एक संक्रमित मिला था। इस तरह दो दिन में पांच संक्रमित मिल चुके हैं।

मां अन्नापूर्णा सेवा संस्थान ने 108 मास्क बांटे

धामनोद। मां अन्नापूर्णा सेवा संस्थान द्वारा कोरोना संक्रमण के मद्देनजर गरीब बस्तियों व मजदूरों को मास्क का वितरण किया जा रहा है। बुधवार को भी 108 मास्क बांटे गए। संस्था के दीपक प्रधान ने बताया कि हमारा प्रयास है कि गरीबों को मास्क वितरण किया जाए, ताकि उन्हें इस महामारी से दूर रख सके। हमारी संस्था न सिर्फ मजदूर वर्ग को मास्क का वितरण करती है, बल्कि उन्हें संक्रमण के बारे में समझाती भी है, ताकि वे अपना और अपने परिवार का ख्याल रख सके। सभी को समझाया जाता है कि बीमारी का अभी कोई इलाज नहीं है। इसके प्रति जागरूक व गंभीर रहें। हमने मजदूर भाइयों से अनुरोध किया है कि यदि कोई मास्क नहीं खरीद सकता, तो वह संस्था पर मास्क निशुल्क ले सकते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस