कुक्षी/सुसारी (नईदुनिया न्यूज)। मैं अपनी मकान की समस्या को लेकर कई बार जिले से लेकर तहसील के अधिकारियों से मिल चुकी हूं। अधिकारियों से मिलने से पहले पर्ची देनी पड़ती है, लेकिन गुरुवार को कुक्षी पहुंची, तो नए एसडीएम के आफिस का दरवाजा खुला मिला। सीधे जाकर उन्हें समस्या बताई। उन्होंने आश्वस्त किया है कि समस्या का हल किया जाएगा।

उक्त बात बाग से आई बुजुर्ग महिला शांता बाई ने कही। नवागत एसडीएम नवजीवन पंवार अपने आफिस का दरवाजा खुला रखते हैं। इससे उनसे कोई भी मिलने वाले व्यक्ति को इंतजार नहीं करना पड़ता। जो भी व्यक्ति उनसे मिलने आता है, वह सीधे मिल लेता है। अमूनन अधिकतर अधिकारी या आइएएस अधिकारियों से मिलने से पहले उनसे समय या उनके आफिस के गेट के बाहर जिस कर्मचारी की नियुक्ति होती है, उसे पर्ची पर नाम लिखकर दिया जाता है। उसके बाद ही मुलाकात के लिए अंदर बुलाया जाता है, लेकिन इन दिनों कुक्षी एसडीएम के आफिस के बाहर दरवाजा बंद नहीं, बल्कि खुला रखा जाता है। ताकि जब वे आफिस में मौजूद हों, तो उनसे सीधे कोई भी मिल सकता है।

लोक सेवक हूं, तो लोगों से क्या पर्दा

नईदुनिया ने एसडीएम पंवार से चर्चा की, तो उन्होंने बताया कि में लोक सेवक हूं, तो लोगों से मुझसे मिलने के लिए किसी दरवाजे या पर्दे की आवश्यकता नहीं होनी चाहिए। अगर में आफिस में हूं, तो जिसे भी कोई समस्या या बात करनी हो, तो वह मुझसे आकर कर सकता है, ताकि में उसकी समस्या को नियमानुसार हल कर सकूं। यही मेरा काम है। उन्होंने कहा कि मैंने अपने मोबाइल नंबर की स्लिप लगा रखी है, ताकि कोई भी समस्या हो, तो मुझसे बात की जा सके। एसडीएम ने कहा कि आप मेरा मोबाइल नंबर 9329301390 मीडिया के माध्यम से भी प्रसारित कर सकते हैं। अनुभाग के दूरस्थ अंचल से यदि कोई व्यक्ति यहां नहीं आ सकता है, तो वह मुझे मोबाइल पर कॉल कर अपनी समस्या के बारे में अवगत करा सकता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags