उमरबन। नईदुनिया न्यूज। बस स्टैंड के समीप पुराने शौचालय की जगह नवीन सुलभ शौचालय का निर्माण होना था, लेकिन अब भी निर्माण कार्य अधर में अटका हुआ है। इससे बस स्टैंड पर आने वाले यात्रियों व ग्रामीणों को परेशानी हो रही है।

सुलभ शौचालय निर्माण के लिए 5.50 लाख रुपये की सांसद निधि की प्रशासकीय स्वीकृति 8 जनवरी 2020 को जारी की गई थी। जनपद पंचायत ने सुलभ शौचालय निर्माण के लिए प्रथम किस्त 2.50 लाख रुपये ग्राम पंचायत को 22 जनवरी को आवंटित की, लेकिन पंचायत ने छह माह तक सुलभ शौचालय का निर्माण कार्य प्रारंभ ही नहीं किया। बाद में पंचायत ने निर्माण कार्य दूसरी जगह प्रारंभ कर दिया। जबकि जहां सुलभ शौचालय निर्माण होना था, वहां दुकानें, तलघर एवं अन्य कार्य प्रारंभ कर राशि का दुरुपयोग किया गया। इसे नईदुनिया ने समय-समय पर जिला प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराया था। सवाल यह उठता है कि सुलभ शौचालय निर्माण की स्वीकृति जहां ली गई थी, वहां पर कार्य ना करते हुए दूसरी जगह कार्य प्रारंभ किया गया। यहां भी पंचायत ने दुकानें व तलघर का निर्माण कर दिया। अब यह काम भी तीन माह से बंद पड़ा है। ऐसी स्थिति में बस स्टैंड पर आने-जाने वाले यात्रियों के लिए ना तो शौचालय है एवं ना ही सुविधाघर। इसके चलते महिलाओं को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। ग्रामीणों ने कलेक्टर से मांग की है कि चयनित जगह पर ही सुलभ शौचालय का निर्माण कार्य प्रारंभ किया जाए। उसी स्थान पर यात्री प्रतीक्षालय भी बनाया जाए। दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई कर शासन की योजना को मूर्त रूप देने की मांग की गई।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस