बदनावर (नईदुनिया न्यूज)। यहां नगरीय निकाय चुनाव में बुधवार सुबह सात से शाम पांच बजे तक मतदान होगा। इसमें नगर के 17 हजार मतदाता पार्षद पद के 38 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। नगर परिषद के अध्यक्ष का पद अन्य पिछड़ा वर्ग की महिला के लिए आरक्षित है। इसलिए पुरुष अभ्यर्थियों की तुलना में महिला उम्मीदवार दोगुनी संख्या में भाग्य आजमा रही हैं। नगर परिषद के 15 वार्ड में से आठ में सीधा मुकाबला है। जबकि छह में तीन-तीन उम्मीदवार मैदान में होने से त्रिकोणीय मुकाबले की स्थिती बनी हुई है। एक वार्ड में चतुकोष्णीय मुकाबला है। परिणाम 17 जुलाई को मतगणना के बाद सामने आएंगे।

नगर परिषद में कुल 17 हजार 68 मतदाता हैं, जिसमें आठ हजार 568 पुरुष एवं आठ हजार 497 महिला मतदाता हैं। इस बार नगर परिषद के 67 वर्ष के इतिहास में 16वां अध्यक्ष निर्वाचित होगा, जिसमें तीसरी बार महिला नगर की प्रथम नागरिक बनेगी। नगर के 15 वार्ड में 38 प्रत्याशी पार्षद पद के लिए भाग्य आजमा रहे हैं। इनमें 15 पुरुष एवं 23 महिला उम्मीदवार मैदान में हैं। वार्ड क्रमांक एक व दो में पुरुष एवं महिला अभ्यर्थी आमने-सामने हैं। जबकि वार्ड क्रमांक सात में एक महिला, तीन पुरुष तथा वार्ड क्रमांक दस में एक महिला तथा दो पुरुष मैदान में हैं। वार्ड क्रमांक एक, दो, तीन, चार, पांच, छह एवं नौ में सीधा मुकाबला है। जबकि वार्ड क्रमांक आठ, दस, 12, 13, 14 एवं 15 में तीन-तीन अभ्यर्थी पार्षद पद की दौड़ में हैं। इसलिए त्रिकोणीय मुकाबले की स्थिति निर्मित हुई है। वार्ड क्रमांक सात में चार अभ्यर्थी पार्षद पद के लिए जोर-आजमाइश में लगे हुए हैं।

कुल 28 मतदान केंद्र

नगर में 15 वार्ड में मतदान के लिए कुल 28 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इनमें छह मतदान केंद्र अति संवदेनशील की श्रेणी में आते हैं। वार्ड क्रमांक पांच एवं दस में एक-एक बूथ बनाया है। जबकि शेष वार्डों के लिए दो-दो बूथ बनाए गए हैं।

मतदान सामग्री वितरित, रिमझिम वर्षा के बीच मतदान दल रवाना

इधर, शासकीय महाविद्यालय में मंगलवार को मतदान दलों को मतदान सामग्री का वितरण एसडीएम व रिटर्निंग आफिसर वीरेंद्र कटारे व सहायक रिटर्निंग आफिसर अजमेरसिंह गौड़ की मौजूदगी में किया गया। नगर के 15 में से 14 वार्डों स्थित मतदान केंद्रों पर मतदान अधिकारी के रूप में महिला कर्मचारी भी मतदान प्रक्रिया संपन्ना कराएंगी। मतदान दल रिमझिम वर्षा के बीच ईवीएम व अन्य मतदान सामग्री हाथों में लेकर रवाना हुए। रिटर्निंग आफिसर कटारे ने मतदान दलों से कहा कि निकाय चुनाव स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से निडर होकर करवाना है। यहां कुछ वार्डों की मतदाता सूचियों में मतदाताओं के नाम दो-दो वार्ड की मतदाता सूचियों में दर्ज हैं। ऐसे में हमें मतदान के दौरान अतिरिक्त सावधानी बरतनी होगी। मतदाताओं को मतदान के समय ऐसी अमिट स्याही लगानी है, ताकि वह उसे मिटा न सके। यदि कोई मतदाता दोबारा से मतदान करते हुए पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वर्षाकाल का दौर है। इससे बचाव के लिए मतदान केंद्रों के बाहर वाटर प्रूफ पंडाल लगाए गए हैं। निर्वाचन के दौरान अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था के माकूल इंतजाम किए गए हैं। यहां कुल 28 मतदान केंद्रों पर मतदान दलों के लाने व ले जाने के लिए 10 बसें अधिग्रहीत की गई हैं। इसमें तीन रिजर्व में होगी। मतदान केंद्रों तक पहुंचने के लिए सात रूट बनाए गए हैं। एक बस में चार-चार मतदान केंद्र रवाना किए किए। हालांकि मतदान नगरीय निकाय चुनाव में मतदान केंद्रों की दूरी सबसे अधिक करीब ढाई से तीन किमी की दूरी कालाभाटा क्षेत्र स्थित मतदान केंद्र की है। मतदान केंद्रों के निरीक्षण तथा प्रत्येक गतिविधियों पर नजर रखने के लिए चार सेक्टर अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। एक मतदान दल में पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी क्रमांक एक, दो व तीन तथा पुलिसकर्मी व कोटवार मौजूद रहेंगे। वार्ड क्रमांक चार एवं वार्ड क्रमांक पांच के मतदान केंद्र सात व आठ शासकीय उमावि में कक्ष क्रमांक तीन व चार को आदर्श मतदान केंद्र बनाया गया है।

दोपहर 12 बजे पहुंचे मतदान दल

दोपहर 12 बजे सभी मतदान दल अपने-अपने निर्धारित मतदान केंद्रों पर पहुंच गए थे। रिटर्निंग आफिसर ने मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। वर्षा को देखते हुए मिडिल स्कूल स्थित मतदान केंद्र के बाहर वर्षा होने से कीचड़ पसर गया। मतदान केंद्र के अंदर भी दीवारें कमजोर होने से पानी टपक रहा था। जिसे बाद में दुरुस्त करवाया गया और मैदान में मुरम डलवाई गई। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को भी वर्षा की संभावना जताई गई है। ऐसे में मतदान के दौरान वर्षा होने से इक्का-दुक्का मतदान केंद्रों पर परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

ऐसी होगी मतदान प्रक्रिया मतदाता रखें ध्यान

बुधवार सुबह सात से शाम पांच बजे तक मतदान होगा। मतदाताओं को अपने साथ राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित सूची के अनुसार पहचान पत्र साथ में ले जाना अनिवार्य रहेगा। मतदान केंद्र पर सबसे पहले मतदान अधिकारी मतदाता का नाम सूची में देखेंगे और आइडी प्रूफ चेक करेंगे। इसके बाद दूसरे मतदान अधिकारी ऊंगली पर स्याही लगाएंगे तथा एक रजिस्टर में हस्ताक्षर लेंगे तथा पर्ची देंगे। तीसरे मतदान अधिकारी के पास पर्ची जमा करानी होगी और स्याही लगी ऊंगली दिखानी होगी। उसके बाद ईवीएम में अपने पसंदीदा प्रत्याशी के सामने का बटन दबाना होगा। वीवीपेट मशीन में से एक पर्ची निकलेगी, जिससे आपके मत की पुष्टि होगी।

वार्डवार मतदाताओं की संख्या

वार्ड मतदाता संख्या

1 1299

2 1208

3 712

4 991

5 1024

6 941

7 1407

8 1170

9 1182

10 1142

11 977

12 1155

13 1277

14 1137

15 1446

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close