डिंडौरी गोरखपुर (नईदुनिया न्यूज)। करंजिया विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत खारीडीह से उफरी जाने वाले पक्के मार्ग पर इन दिनों ठेकेदार द्वारा मरम्मतीकरण के नाम पर स़ड़क को समतलीकरण करने का कार्य किया जा रहा है। ग्रामीणों ने संबंधित ठेकेदार पर मरम्मत कार्य के लिए घटिया सामग्री उपयोग करने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों की मानें तो पूर्व में इसी ठेकेदार द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण स़ड़क योजना के तहत खारीडीह से उफरी के बीच लगभग एक किमी की स़ड़क बनाई गई थी। अब मेंटेनेंस का काम भी वही करवा रहा है। ठेकेदार पर मिट्टी युक्त काली रेत, ओवरसाइज गिट्टी और कम मात्रा में सीमेंट का उपयोग करने का आरोप लगाया गया है। बाइब्रेटर का उपयोग किए बिना ही कांक्रीट डालने की बात भी ग्रामीणों द्वारा बताई गई है। ग्रामीणों का आरोप है कि मरम्मत कार्य को देखने कोई भी जिम्मेदारी अधिकारी कर्मचारी कार्यस्थल पर मौजूद नहीं है।

विभाग के दिशा निर्देश पर चल रहा कार्य

सोमवार को कार्य स्थल पर मौजूद ठेकेदार के कर्मचारियों से निर्माण के संबंध में पूछताछ करने पर उनके द्वारा रटा रटाया गैर जिम्मेदाराना जवाब दिया गया कि यह कार्य विभाग से मिले दिशा निर्देश पर कराया जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि विभाग के नाम का उपयोग करते हुए संबंधित मेंटेनेंस के कार्य को लीपापोती करने में लगा हैं। कार्यस्थल पर मौजूद लोगों ने बताया कि यह निर्माण कार्य ठेकेदार मै. राम मौज शर्मा भिंड नामक व्यक्ति द्वारा किया जाना बताया गया है।

ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी निर्माण में मनमानी

संदीप कुमार ठाकुर, अरविंद सारीवान, सुखदेव, राजेश, रुपेश सारीवान सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि करंजिया विकासखंड अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी निर्माण कार्यों में मनमानी बरती जा रही है। जिम्मेदार अधिकारियों का आना नहीं होता। हर छोटा बडा निर्माण कार्य प्रारंभ होकर समाप्त हो जाता है, लेकिन जिम्मेदार देखने नहीं आते। ग्रामीणों ने आक्रोशित लहजे में कहा कि ठेकेदार द्वारा जो मरम्मतीकरण के नाम पर मनमानी की जा रही है उसकी जांच कर कार्रवाई की जाए अन्यथा ग्रामीण विरोध प्रदर्शन करेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local