डिंडौरी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। वर्चुअल रूप से डिंडौरी जिले के साथ खंडवा जिले के विभागीय कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री को कलेक्टर रत्नाकर झा ने जिले में माइक्रो डेरी की व्यवस्था में किए गए नवाचार की जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि डेयरी व्यवसाय से जनजातीय युवाओं को आजीविका से जोड़ने में मदद मिलेगी। ऐसी गतिविधियों को प्रोत्साहित किया जाए। मुख्यमंत्री ने डेयरी व्यवसाय को विशेष पहल बताकर कलेक्टर रत्नाकर झा के इस कार्य की सराहना करते हुए उनकी पीठ भी थपथपाई। इस दौरान मुख्यमंत्री ने एक लिस्ट दिखाते हुए कहा कि इसमें जिले के कुछ अधिकारियों के नाम हैं, जिनके द्वारा मनमानी बरती जा रही है। विशेषकर आरईएस विभाग में निर्माण कार्यों का ठेका देने के नाम पर की जा रही वसूली का मामला भी उठा। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर से संबंधित विभागीय प्रमुख अधिकारी पर कार्रवाई के साथ नजर रखने की बात कही।

संस्थागत प्रसव बढ़ाने पर जोर

जिले की समीक्षा में संस्थागत प्रसव की कम संख्या को लेकर चिंता जताई गई। बैठक में बताया गया कि छत्तीसगढ़ से लगे दो विकासखंड में नेटवर्क की समस्या के कारण तत्काल सूचना प्राप्ति में विलंब होता है। मुख्यमंत्री ने नेटवर्क की व्यवस्था को सुदृढ़ करने और विकासखंडों में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर रत्नाकर झा ने मुख्यमंत्री से बताया कि जिला अस्पताल में जनभागीदारी से स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया गया है। मुख्यमंत्री ने जिले में स्व-रोजगार गतिविधियों को प्रोत्साहित करने के लिए बैंक से टाईअप कर योजनाओं का क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

कोदो कुटकी की कराए जाए मार्केटिंग

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक जिला-एक उत्पाद में कोदो-कुटकी की बेहतर मार्केटिंग की जाए। डिंडौरी जिले में पूर्णतः आर्गेनिक तरीके से उत्पादित हो रही कोदो- कुटकी की स्वास्थ्य दृष्टि से बहुत मांग है। इस मांग को देखते हुए इसके ब्रांड का विस्तार पूरे देश में किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता की तुड़ाई की मजदूरी, वनोपज के उचित मूल्य और जनजाति बहुल क्षेत्रों में संचालित रोजगार मूलक योजनाओं की समीक्षा भी की। मुख्यमंत्री ने सामाजिक समरसता बनाए रखने के लिए विशेष प्रयास करने के निर्देश भी दिए। डिंडौरी के प्रभारी डॉ. मोहन यादव वर्चुअली सम्मिलित हुए। वर्चुअल बैठक के दौरान एसपी संजय सिंह, अपर कलेक्टर अरूण विश्वकर्मा, जिला पंचायत सीईओ अंजू विश्वकर्मा, संयुक्त कलेक्टर रजनी वर्मा सहित विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close