डिंडौरी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले भर के सभी शासकीय प्राइमरी व मिडिल स्कूलों को किचन गार्डन तैयार करने के लिए जारी पांच-पांच हजार रुपये की राशि की समीक्षा बैठक जिला पंचायत में गत दिनों आयोजित की गई थी। जिले भर के 73 प्राइमरी व मिडिल स्कूल के प्रधान अध्यापक बैठक में बिना सूचना के आए ही नहीं। इसे लापरवाही मानते हुए जिला पंचायत सीईओ ने सभी बैठक में अनुपस्थित प्रधान अध्यापकों को एक कार्य दिवस अनुपस्थित मानकर वेतन काटने के निर्देश दिए हैं। सबसे अधि डिंडौरी जनपद क्षेत्र के प्रधान अध्यापकों की लापरवाही सामने आई है। बताया गया कि जिन स्कूलों में मध्यान्ह भोजन संचालित होना था वहां जारी राशि से पौष्टिक हरी सब्जियां तैयार करनी थीं। गौरतलब है कि 1376 स्कूलों को किचन गार्डन बनाने के लिए पांच-पांच हजार रुपये की राशि जारी की गई थी। सैकड़ों स्कूल के प्रधान अध्यापकों ने जारी राशि का कोई उपयोग नहीं किया। कई जगह राशि में मनमानी भी बरतने के आरोप लगे हैं।

इन स्कूलों के प्रधान अध्यापकों का कटेगा वेतन

समीक्षा बैठक के दौरान अनुपस्थित रहने पर अमरपुर जनपद क्षेत्र के एक प्राइमरी स्कूल मोहगांव प्रधान अध्यापक का वेतन कटेगा। इसी तरह बजाग जनपद के तीन स्कूल शामिल हैं जिनमें प्राइमरी स्कूल तांतर, जल्दा और मिडिल स्कूल सुकुलपुरा शामिल हैं। इसी तरह डिंडौरी जनपद के अझवार, खम्हरिया माल, लुटगांव, पड़रिया माल, नरिया, मुड़ियाखुर्द, धमनगांव, अमनीपिपरिया, मिगरोड़ी, हिनौता, कुदवारी, जमगांव, रूसा, मुड़की, पलकी, बटौंधा, नेवसा, मिडिल स्कूल शाहपुर, मिडिल स्कूल प्राचीन डिंडौरी, मिडिल स्कूल विक्रमपुर, मिडिल स्कूल भोंदू टोला प्राचीन डिंडौरी, मुड़कीमाल, चिचरिंगपुर, प्राइमरी व मिडिल स्कूल देवरा, नुनखान, घुसिया, गर्ल्स आश्रम शाला वार्ड तीन, हिनौता, दुहनिया, कस्तूरबा कन्या मिडिल स्कूल डिंडौरी, दुल्लोपुर, दूधी मझौली, रकरिया, नरिया, कन्या शिक्षा परिसर डिंडौरी, कन्या शिक्षा परिसर आनाखेड़ा, कन्या शिक्षा परिसर मोर्चा के प्रधान अध्यापक का नाम शामिल है।

शहपुरा और मेहंदवानी जनपद के भी स्कूल शामिल

बैठक में अनुपस्थित रहने पर शहपुरा और मेहंदवानी सहित समनापुर जनपद के स्कूल में पदस्थ प्रधान अध्यापकों पर भी कार्रवाई की गई है। शहपुरा जनपद क्षेत्र में चंदवाही, मरवारी, गर्ल्स आश्रम शहपुरा, इंदौरी, बड़झर, बिछिया, रयपुरा, मानिकपुर, धिरवनकला का नाम शामिल है। इसी तरह समनापुर जनपद का महज एक मिडिल स्कूल छांटा के प्रधान अध्यापक बैठक में अनुपस्थित रहे जिन पर कार्रवाई के निर्देश हैं। इसी तरह मेहंदवानी जनपद के कुशेरा, चौबीसा, प्राइमरी स्कूल छाता, मिडिल स्कूल राई, मनेरी, सारंगपुर, पायली का नाम शामिल है।

करंजिया जनपद के 15 स्कूल भी शामिल

समीक्षा बैठक में करंजिया जनपद के 15 स्कूलों के प्रधान अध्यापक बैठक में शामिल नहीं हुए जिन पर कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। इन स्कूलों में प्राइमरी स्कूल बरबसपुर, एमएस जुगदेई, एमएस खारीडीह, एमएस जाड़ासुरंग, एनएमएस उमरिया, एमएस बुंदेला, पीएस खारीडीह, एमएस सेनगुड़ा, एनएमएस मुसामुंडी, एमएस झनकी, पीएस झनकी, एमएस गोपालपुर, बीएमएस करंजिया, गर्ल्स एमएस रूसा सहित कन्या शिक्षा परिसर के प्रधान अध्यापक बैठक में सूचना के बाद भी शामिल नहीं हुए जिनके वेतन काटने की कार्रवाई की गई है।

इनका कहना है

जिले के सभी 1376 स्कूलों को पांच-पांच हजार रुपये किचन गार्डन तैयार करने के लिए जारी हुए थे। जिला पंचायत में 17 नवंबर से 20 नवंबर तक समीक्षा के लिए बैठक आयोजित की गई थी। बैठक में सभी प्रधान अध्यापकों को उपस्थित होना था, लेकिन बड़ी संख्या में प्रधान अध्यापक बिना सूचना के अनुपस्थित रहे। जिला पंचायत सीईओ द्वारा अनुपस्थित शिक्षकों का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए गए हैं।

पुरुषोत्तम प्रजापति

प्रभारी अधिकारी एमडीएम डिंडौरी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस