डिंडौरी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में सड़क दुर्घटनाओं के दौरान घायलों की मदद करने से लेकर पुलिस को सूचना देने के साथ अस्पताल पहुंचाने की जिम्मेदारी निभाने के लिए जिले में हाइवे किनारे के गांवों में ट्रैफिक मित्र तैनात किए गए हैं। ट्रैफिक मित्रों को मंगलवार को एक दिवसीय प्रशिक्षण पुलिस लाइन में दिया गया। उल्लेख है कि जिले में लगातार सड़क दुर्घटनाओं में वृद्धि होने के चलते पुलिस अधीक्षक संजय सिंह द्वारा जिले में ट्रैफिक मित्रों को तैनात करने की पहल की गई है। जिले में दौ सैकड़ा ट्रैफिक मित्र को गांव-गांव तैनात किया गया, जिनमें से 160 को मंगलवार को आयोजित कार्यक्रम में एसपी व एएसपी द्वारा परिचय पत्र का वितरण भी किया गया। शहपुरा से लेकर करंजिया, डिंडौरी से मंडला मार्ग सहित जिले से गुजरने वाले स्टेट व नेशनल हाइवे किनारे के गांव में ट्रैफिक मित्र लोगों को जागरुक करेंगे।

राहत बचाव कार्य का दिया प्रशिक्षण

प्रशिक्षण में सड़क दुर्घटना में सहायता उपलब्ध कराने को लेकर जिला पुलिस बल के अधिकारियों द्वारा ट्रैफिक मित्रों को प्रशिक्षण दिया गया। राहत व बचाव कार्य का प्रशिक्षण एसडीआरएफ़ की टीम ने उपलब्ध संसाधनों के आधार पर दिया। दुर्घटना के बाद घायलों के प्राथमिक इलाज का प्रशिक्षण जिला अस्पताल के डॉ. एके वर्मा द्वारा दिया गया। बताया गया कि ट्रैफिक मित्र सड़क दुर्घटना की सूचना पुलिस को देने के साथ घायलों को अस्पताल तक पहुंचाने में पुलिस के साथ स्वास्थ्य अमले की सहायता करेंगे। साथ ही अपने-अपने क्षेत्र के गांव में लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक भी करेंगे। जिले के हर थाना चौकी क्षेत्र से ट्रैफिक मित्रों का चयन कर प्रशिक्षण दिया गया है। कार्यक्रम में रक्षित निरीक्षक संध्या ठाकुर, कोतवाली प्रभारी सीके सिरामें, यातायात प्रभारी राहुल तिवारी सहित अन्य थाना चौकी, प्रभारी व यातायात स्टाफ मौजूद रहा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags