डिंडौरी। नईदुनिया प्रतिनिधि। शराबबंदी को लेकर मुखर रहीं पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती शुक्रवार को जिले के तहसील मुख्यालय शहपुरा में संचालित शराब दुकान पहुंच गईं। यहां उन्होंने चेतावनी भी दी कि यह शराब की दुकान बंद हो जाना चाहिए नहीं तो मैं सारे काम छोड़कर यहां फिर आऊंगी।

उमा भारती ने कहा कि मुख्य मार्ग के किनारे स्थित शराब दुकान के पीछे 50 मीटर के दायरे में स्कूल है और आगे सौ मीटर के दायरे में राष्ट्रीय ध्वज फहर रहा है। उन्होंने कहा कि मुझे मालूम पड़ा है कि सीएम ने दुकान बंद करने के निर्देश दिए थे, उसके बाद भी अमल नहीं हुआ।

मीडिया से चर्चा के दौरान उमा भारती ने कहा कि यह शराब दुकान सारे नियमों का उल्लंघन कर रही है। शराब दुकान बंद न होने पर मैं फिर आऊंगी जो एक बड़ा उदाहरण बन जाएगा। उन्होंने कहा कि इसलिए वे खुलकर बोल रही हैं। मेरी बात राज्य शासन और मुख्यमंत्री तक पहुंच जाना चाहिए।

गौरतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती इन दिनों अमरकंटक प्रवास पर थीं। गुरूवार की शाम अमरकंटक से लौटते समय वे शहपुरा रेस्ट हाउस में रुक गईं। शुक्रवार की सुबह कुछ परिचितों से मिलने वे नगर में निकली थीं। इसी दौरान उमरिया मार्ग में स्थित शराब दुकान के बाहर उनका काफिला रुक गया। उन्होंने कहा कि दुकान में देशी और विदेशी शराब उपलब्ध है और लोग छककर उसे पी रहे हैं। यहां से पूर्व मुख्यमंत्री जबलपुर के लिए रवाना हो गईं। पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा दी गई चेतावनी दिनभर राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय बनी रही।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close