डिंडौरी गोरखपुर (नईदुनिया न्यूज)। केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ पात्रों को नहीं मिल पा रहा है। जिले में अक्सर ऐसे मामले सामने आते रहे हैं। ऐसा ही एक मामला करंजिया विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत गोरखपुर के वार्ड क्रमांक 18 के निवासी 65 वर्षीय जगदंबा बर्मे का है। इनका नाम वर्ष 2011 की सर्वे सूची में नहीं हैं और न ही आवास प्लस योजना में नाम जोडकर लाभांवित नहीं किया है।

योजना का लाभ न मिलने से वह अपने जर्जर हो चुके मकान में ही जीवन यापन करने मजबूर है। उनका कहना है कि वे कई बार ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों से योजना के तहत आवास स्वीकृत कराने की मांग कर चुके हैं, लेकिन अभी तक उनकी सुनवाई नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि सीएम हेल्पलाइन में शिकायत दर्ज कराने के बाद समाधान के लिए एक अधिकारी आए थे और अपने हिसाब से पढ लिखकर चले गए। पंचायत द्वारा एक पत्र उन्हें भी दिया गया हैं, जिसमें स्पष्ट लिखा है कि वर्ष 2010 की एसईसी सूची में नाम नहीं होने के कारण आपको प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देना संभव नहीं है। आगामी दिनों में जब आवास प्लस पोर्टल चालू किया जाएगा तो आपका नाम जोडा जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि सचिव व सरपंच की मनमानी के चलते पीएम आवास योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

जर्जर हो रहा पुराना कच्चा मकान : प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ नहीं मिल पाने से नाराज जगदंबा बर्मे ने बताया कि उनका कधाा मकान कई जगहों से टूट फूट चुका हैं। लकडी का सहारा देकर खपरैल छत को गिरने से रोका गया हैं। कहीं पन्नी लगाकर पानी टपकने से बचाव किया गया है। ऐसे में एक ही कमरे में बड़ी दिक्कतों से परिवार के लोगों को गुजर बसर करना होता है। फिलहाल मकान की काफी जर्जर अवस्था में है। मकान के आसपास बरसात का पानी जमा हो गया हैं जिसके कारण घर के फर्श व दीवार में अभी से सीलन बढ़ गई हैं सीलन के कारण पत्नी बीमार हो गई है, जिसका इलाज कराने के लिए बेटी दामाद के पास छोड़ दिया है। आने वाले दिनों वर्षा में परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। पीड़ित जगदंबा बर्मे ने बताया कि वह आवास का लाभ पाने के लिए पंचायत के चक्कर काट थक गया। अंततः जब उसे पता चला कि आवास योजना में उसका नाम नहीं तो वो काफी निराश हो गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close