डिंडौरी, नईदुनिया प्रतिनिधि। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 11 अक्टूबर को उज्जैन में श्री महाकाल लोक का लोकार्पण करेंगे। श्री महाकाल लोक का कार्यक्रम उज्जैन सहि़त संपूर्ण प्रदेश के लिए गौरव का दिन होगा। उक्त कार्यक्रम का जिले के सभी पंचायतों में स्थित मंदिरों में शाम पांच बजे से लाइव प्रसारण किया जाएगा, जिससे जिलेवासी इस गौरवपूर्ण कार्यक्रम के सहभागी व साक्षी बन सकें। कलेक्टर रत्नाकर झा ने गुरुवार को कलेक्टे्रट सभाकक्ष में 11 अक्टूबर को उज्जैन में आयोजित महाकाल लोक कार्यक्रम का लाइव प्रसारण जिले के मंदिरों में कराने के संबंध में समीक्षा की। इस अवसर पर एसडीएम डिंडौरी बलवीर रमण, संयुक्त कलेक्टर रजनी वर्मा अन्य अधिकारी व मंदिरों के पुजारी मौजूद रहे।

मंदिरों की सफाई, रंग रोगन के निर्देश

जिला मुख्यालय के त्रयंबकेश्वर महादेव मंदिर में मुख्य कार्यक्रम आयोजित करने की तैयारी भी जोर शोर से शुरू हो गई है। कलेक्टर श्री झा ने कहा कि 11 अक्टूबर को उज्जैन में आयोजित श्री महाकाल लोक कार्यक्रम का लाइव प्रसारण जिले के सभी मंदिरों में किया जाएगा। उन्होंने मंदिरों में साफ-सफाई, पुताई, टेंट लगाने के निर्देश दिए हैं। श्रद्धालुओं के द्वारा मंदिरों में तैयारियों के लिए व्यक्तिगत या सामूहिक रूप से सहभागिता की जाएगी। मंदिर परिसर में कार्यक्रमों का आयोजन प्रातःकाल से ही प्रारंभ हो जाएगा। मुख्य कार्यक्रम के आयोजन तक मंदिरों में भजन-कीर्तन, पूजन-अर्चन, प्रवचन, धार्मिक व सांस्कृतिक संपन्न होंगे। मंदिरों में इसके बाद उज्जैन में आयोजित कार्यक्रम का लाइव प्रसारण एलईडी या टीव्ही के माध्यम से किया जाएगा, जिससे जिलेवासी उज्जैन में आयोजित कार्यक्रम का लाइव प्रसारण देख सकें।

मंदिर परिसर में रोपे जाएंगे पौधे

कलेक्टर ने कहा कि उज्जैन में आयोजित कार्यक्रम के लाइव प्रसारण के लिए मंदिर के पुजारियों के मोबाईल में लिंक भेजी जाएगी। मंदिर के पुजारी उक्त लिंक के माध्यम से कार्यक्रमों का लाइव प्रसारण कर सकेंगे। कलेक्टर ने कहा कि 11 अक्टूबर को आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर मंदिर परिसर में पौधारोपण भी किया जाएगा। पौधारोपण के लिए स्थानीय स्तर पर कर्मचारियों को जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। नोडल अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे। उन्होंने उद्यानिकी विभाग को मंदिरों के लिए पौधे उपलब्ध कराने व राजस्व विभाग को मानीटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने मंदिर परिसर में शमी और बेल के पौधे लगाने को प्राथमिकता देने की बात कही है।

शिविर स्थल के आसपास क्षेत्र का करें चयन

कलेक्टर ने 11 अक्टूबर को आयोजित कार्यक्रम के लिए स्थानीय स्तर पर व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए हैं, जिससे आयोजित कार्यक्रम में श्रद्धालु व नागरिकों की शत-प्रतिशत उपस्थिति रहे। कलेक्टर ने 11 अक्टूबर को आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री जनसेवा शिविर के लिए मंदिर परिसर के आसपास स्थल चयन करने को कहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री जनसेवा शिविर के आयोजन के लिए जिला स्तरीय नोडल अधिकारी, जनपद स्तरीय नोडल अधिकारी व स्थानीय कर्मचारियों को तैयारी करने के निर्देश दिए हैं, जिससे मुख्यमंत्री जनसेवा शिविर कार्यक्रम में पहुंचे हितग्राही उज्जैन से होने वाले लाइव प्रसारण कार्यक्रम में सहभागी बन सकें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close