Guna Crime News: गुना, नवदुनिया प्रतिनिधि। मध्य प्रदेश के गुना के आरोन थानाक्षेत्र में शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात पुलिस और शिकारियों के बीच मुठभेड़ में एक एसआइ सहित तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो गई। रात में मुठभेड़ में एक शिकारी नौशाद मारा गया था, वहीं दूसरे शिकारी शहजाद को भी पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इसकी पुष्टि कर दी, उन्होंने बताया कि दसूरा आरोपित कहीं पहाड़ के पास छिपा था, उसने आठ राउंड गोली पुलिस पर चलाई, जवाबी कार्रवाई में मारा गया। मुख्य आरोपित अभी फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है। शिकारी जिया खान और शानू खान को कोर्ट ले जाते समय गाड़ी पलट गई। इस दौरान दोनों ने भागने का प्रयास किया, इसके बाद पुलिस गोली चलाई जो उनके पैरों में लगी।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार की रात करीब 12.30 बजे आरोन थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि शहरोक गांव की पुलिया से आगे मौनवाड़ा के जंगल में शिकारियों द्वारा ब्लैक बग हिरण और मोर का शिकार किया गया है। इस पर थाने से एसआइ राजकुमार जाटव, प्रधान आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम मीना सहित सात लोग दो चारपहिया और एक बाइक से जंगल की ओर रवाना हुए। इस दौरान पुलिस ने चार मोटरसाइकिल से आए दो-तीन शिकारियों को पकड़ लिया। लेकिन तभी पीछे से आए शिकारियों के अन्य साथियों ने फायरिंग शुरू कर दी। इसमें तीन पुलिसकर्मियों में से सभी सात से आठ गोलियां लगने से मौके पर मौत हो गई, जबकि अन्य भाग निकले। सरकार की ओर से बलिदानी पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की गई है।

मुठभेड़ में उपनिरीक्षक राजकुमार जाटव, नीरज भार्गव और संतराम की मौत हो गई हैं। वहीं सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल से से हिरण, मोर के शव भी बरामद किए हैं। जबकि आरोपित फरार हो गए हैं। इधर, अभी कोई पुलिस अधिकारी ज्यादा कुछ जानकारी देने से बचते नजर आ रहे हैं। मुठभेड़ में बलिदान हुए उपनिरीक्षक राजकुमार जाटव मूलत: अशोकनगर जिले के रहने वाले थे।

सीएम शिवराज ने बुलाई उच्चस्तरीय बैठक

गुना में शिकारियों द्वारा पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सुबह 9:30 बजे आपात उच्चस्तरीय बैठक बुलाई। बैठक में गृह मंत्री नरोत्‍तम मिश्रा के अलावा सीएस, डीजीपी, एडीजी, पीएस गृह सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए। डीजीपी और गुना प्रशासन के बड़े अधिकारी बैठक से वर्चुअली जुड़े।

बैठक के बाद सीएम शिवराज ने इस मामले में सख्‍त कार्रवाई करते हुए ग्‍वालियर आइजी को तत्‍काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए।

परिजनों को एक-एक करोड़ देने का एलान

गृहमंत्री नरोत्‍तम मिश्रा ने कहा कि गुना की गोलीबारी में बलिदान हुए पुलिस के तीनों अधिकारी/ कर्मचारियों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए की अनुग्रह राशि प्रदान की जाएगी। अंतिम संस्कार में जिलों के प्रभारी मंत्री शामिल होंगे। उन्‍होंने बताया कि पुलिस टीम पर हमले में 07 शिकारी शामिल थे। उनमें से एक शिकारी क्रास फायरिंग में मारा गया। अपराधियों के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई करेंगे। मध्य प्रदेश की पुलिस मुस्तैदी से जान की बाजी लगाकर कर्तव्य निर्वहन कर रही है। रात्रि में भी पुलिस पेट्रोलिंग नियमित व निरंतर हो रही है, इसीलिए शिकारियों को घेर पाए।

जंगल में उतरा पुलिस बल

शिकारियों से मुठभेड़ में तीन पुलिसकर्मियों की मौत के बाद जिले से भारी पुलिस बल जंगल में भेजा गया है। शिकारियों के संभावित स्थानों पर दबिश दी जा रही है। जानकारी मिल रही है कि पुलिस ने एक शिकारी को मार गिराया है। उसका नाम नौशाद बताया जा रहा है।

वन अमला सक्रिय

आरोन के जंगलों में हुए इस कांड के बाद वन विभाग ने शुरू की जांच। गुना डीएफओ और पूरे स्टाफ को किया गया सक्रिय। वन बल प्रमुख आरके गुप्ता ने विभाग की जांच एजेंसियों को भी नजर रखने के निर्देश दिए। उन्‍होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो भोपाल से भी जांच एजेंसी होंगी रवाना।

बदमाशों के घरों पर चला बुलडोजर

इधर, शिकारियों से मुठभेड़ में पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद पुलिस और जिला प्रशासन ने भी सख्त तेवर अपनाएं हैं। एक ओर पुलिस ने बदमाशों की पहचान करने के साथ ही गिरफ्तारी की तैयारी की। वहीं दूसरी तरफ बदमाशों के बिदौरिया गांव स्थित घरों पर बुलडोजर भी चलाना शुरू कर दिया है। इसके लिए सुबह से ही पुलिस और प्रशासन की टीमों को सक्रिय कर दिया गया था। साथ ही 150 से 200 की संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

Koo App

मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj, गुना में देर रात हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के संबंध में निवास में सुबह 9.30 बजे उच्चस्तरीय आपात बैठक लेंगे। बैठक में गृह मंत्री @drnarottammisra जी, सीएस, डीजीपी, एडीजी, पीएस गृह सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे।

- CM Madhya Pradesh (@CMMadhyaPradesh) 13 May 2022

Koo App

हमारे पुलिस के मित्रों ने शिकारियों का मुकाबला करते हुए शहादत दी है।इस घटना में दोषी अपराधियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी जो इतिहास में उदाहरण बनेगी। अपराधियों की पहचान हो गई है। घटना की पूरी जांच हो रही है: CM

View attached media content

- CM Madhya Pradesh (@CMMadhyaPradesh) 13 May 2022

Koo App

मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj ने गुना में पुलिस और शिकारियों के बीच भिडंत की दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर निवास पर आपात उच्चस्तरीय बैठक की। बैठक में गृह मंत्री श्री @drnarottammisra एवं सीएस, डीजीपी, एडीजी सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

View attached media content

- CM Madhya Pradesh (@CMMadhyaPradesh) 13 May 2022

Koo App

मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj ने गुना में पुलिस और शिकारियों के बीच भिडंत की दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर निवास पर आपात उच्चस्तरीय बैठक की। बैठक में गृह मंत्री श्री @drnarottammisra एवं सीएस, डीजीपी, एडीजी सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

View attached media content

- CM Madhya Pradesh (@CMMadhyaPradesh) 13 May 2022

Koo App

गुना में शिकारियों का मुकाबला करते हुए हमारे पुलिस के जवानों ने शहादत दी है। अपराधियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी, जो इतिहास में उदाहरण बनेगी। अपराधियों की लगभग पहचान हो गई। जांच चल रही है। पुलिस फोर्स को भेजा गया है। अपराधी किसी भी कीमत पर नहीं बचेंगे।

View attached media content

- Shivraj Singh Chouhan (@chouhanshivraj) 13 May 2022

Koo App

इस घटना में शहादत देने वाले हमारे पुलिस के साथी श्री राजकुमार जाटव, श्री नीरज भार्गव, सिपाही श्री संतराम की शहादत व्यर्थ नहीं जाने दी जायेगी। इन्होंने कर्तव्य की बलिवेदी पर अपने आपको न्योछावर किया है। पुलिस के साथी श्री राजकुमार जाटव, श्री नीरज भार्गव, श्री संतराम को शहीद का दर्जा देकर इनके परिवार को एक-एक करोड़ रुपये सम्मान निधि दी जायेगी। परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा में लिया जायेगा। पूरे सम्मान के साथ इनका अंतिम संस्कार होगा।

- Shivraj Singh Chouhan (@chouhanshivraj) 13 May 2022

Koo App

घटना के बाद घटनास्थल पर पहुंचने में विलंब करने पर मैंने ग्वालियर के आईजी को तत्काल हटाने का फैसला लिया है।

- Shivraj Singh Chouhan (@chouhanshivraj) 13 May 2022

Koo App

गुना में देर रात हुई पुलिस और शिकारियों के बीच भिडंत की घटना को लेकर निवास पर गृह मंत्री एवं वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आपात उच्चस्तरीय बैठक।

View attached media content

- Shivraj Singh Chouhan (@chouhanshivraj) 13 May 2022

Koo App

गुना में देर रात हुई दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना को लेकर मुख्यमंत्री निवास पर मुख्यमंत्री जी के साथ उच्चस्तरीय बैठक में शामिल हुआ। बैठक में सीएस, डीजीपी, एडीजी, पीएस गृह सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। शहीद पुलिस जवानों के परिजनों को 1–1 करोड़ की आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी। सभी अपराधी चिन्हित कर लिए गए हैं। हमारे जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। अपराधियों के खिलाफ़ ऐसी कार्रवाई करेंगे जो कि नजीर बन जाएगी।

View attached media content

- Dr.Narottam Mishra (@drnarottammisra) 13 May 2022

Koo App

गुना में देर रात हुई दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना को लेकर मुख्यमंत्री निवास पर मुख्यमंत्री जी के साथ उच्चस्तरीय बैठक में शामिल हुआ। बैठक में सीएस, डीजीपी, एडीजी, पीएस गृह सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। शहीद पुलिस जवानों के परिजनों को 1–1 करोड़ की आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी। सभी अपराधी चिन्हित कर लिए गए हैं। हमारे जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। अपराधियों के खिलाफ़ ऐसी कार्रवाई करेंगे जो कि नजीर बन जाएगी।

View attached media content

- Dr.Narottam Mishra (@drnarottammisra) 13 May 2022

Koo App

गुना में शिकारियों का मुकाबला करते हुए हमारे पुलिस के जवानों ने शहादत दी है। अपराधियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी, जो इतिहास में उदाहरण बनेगी। : @chouhanshivraj

View attached media content

- Vishvas Kailash sarang (@VishvasSarang) 13 May 2022

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local