दोस्तों ने उधारी के रुपए नहीं लौटाए, तो डिप्रेशन में घर से चला गया युवक

- पुलिस ने गुम इंसान का मामला दर्ज कर शुरू की जांच, तो आठ घंटे बाद ही मिला युवक

गुना। नवदुनिया प्रतिनिधि

अपने दोस्तों को उधार दिए गए रुपए वापस न मिलने से एक युवक दुखी हो गया और वह इतना डिप्रेशन में आ गया कि मंगलवार शाम को बिना किसी को बताए अपने घर से ही चला गया। मामला चांचौड़ा कस्बे के वार्ड सात का है। पुलिस ने जब इस युवक को ढूंढ़ा, तो आठ घंटे बाद ही बीनागंज में यह मिल गया। युवक ने पुलिस को पूरी कहानी सुनाई। इसके बाद पुलिस ने इसे परिजन के सुपुर्द कर दिया है।

चांचौड़ा टीआई सुरेंद्र यादव ने बताया कि वार्ड सात चांचौड़ा में रहने वाले प्रवीण पुत्र दिनेश पालीवाल ने बताया कि उनका छोटा भाई प्रशांत पालीवाल मंगलवार को शाम करीब पांच बजे घर से चला गया। इसके बाद देर रात तक वापस लौटकर नहीं आया। प्रशांत की हर जगह तलाश की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा। इस पर गुमशुदगी दर्ज कर तलाश शुरू की गई, तो प्रशांत पालीवाल आठ घंटे के भीतर ही बीनागंज कस्बे की गल्ला मंडी में मिल गए। प्रशांत ने पुलिस को बताया कि उसके मित्र विक्रम मीना, देवेन्द्र मीना निवासीगण बीनागंज एवं संतोष मीना निवासी टोकातारेना जिला राजगढ द्वारा उससे अपनी जरूरत के लिए एक बार 10 लाख रुपए व एक बार 3 लाख रुपए लिये गये थे, जो उनके द्वारा लौटाये नहीं जा रहे थे। उसी गम के कारण वह अपनी मर्जी से घर पर बिना बताये चला गया था। दस्तयाब युवक प्रशांत पालीवाल को पुलिस ने उसके बड़े भाई प्रवीण पालीवाल की सुपुर्दगी में दिया।

परिवार में पहले हो चुका था एक अपहरण

प्रशांत पालीवाल को लेकर पुलिस ने सक्रियता इसलिये बरती, क्योंकि पूर्व में उक्त परिवार में एक अपहरण की घटना घटित हुई थी और इस युवक के गायब होने से बीनागंज शहर में अपहरण की संभावना जताई जा रही थी। पुलिस ने अपहरण की संभावना को नकारते हुए गुम युवक प्रशांत पालीवाल को बरामद कर लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network