गुना। नवदुनिया प्रतिनिधि

शहर के प्रमुख बाजारों, कैंट और अशोकनगर रोड पर लोग मास्क जेब में रखकर घूम रहे थे। पुलिस अफसरों ने जब इन्हें पकड़ा, तो वह जेब से निकालकर मास्क पहनने लगे। लेकिन अफसरों ने इसे न केवल गंभीर लापरवाही व गाइडलाइन का उल्लंघन मानते हुए उन्हें जेल की हवा खिलाई। शुक्रवार की दोपहर 12 बजे तक 14 लोगों को आंबेडकर भवन स्थित अस्थाई जेल भेज दिया गया था। उधर, सीएसपी ने कैंट रोड, बजरंगगढ़ रोड और अन्य जगहों पर मास्क के बिना घूम रहे 50 लोगों को अस्थाई जेल भिजवाया। कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने कहा कि प्रशासन जब इतनी सख्ती बरत रहा है, उसके बाद भी लोग अपने परिवार और दोस्तों की जान जोखिम में डालने से बाज नहीं आ रहे हैं। जिला और पुलिस प्रशासन की टीमों ने शहर में मास्क के बिना घूम रहे 64 लोगों को अस्थाई जेल में भेजा। इस दौरान निजी बैंक के दो कर्मचारी भी मास्क के बिना घूमते मिले, जिन्हे भी पुलिस अफसरों की टीम ने वाहन में बैठाकर जेल भेज दिया। सबसे अहम बात यह कि शुक्रवार को बाजार में घूम रहे लोगों की जेब में मास्क तो था ,लेकिन वह पहनने से गुरेज कर रहे थे। टीमों ने जब उनको पकड़ना शुरू किया, तो वह जेब से निकालकर मास्क लगाने लगे। इस पर अफसरों ने पहले मास्क न लगाने वालों की फटकार लगाई। उसके बाद सख्ती दिखाते हुए अस्थाई जेल भेज दिया।

नायब तहसीलदार ने दिलाई मास्क पहनने की शपथ

अस्थाई जेल में पकड़े गए लोगों को पहले नायब तहसीलदार ने मास्क पहनाए। उसके बाद 64 लोगों को शपथ दिलाकर कहा कि वह मास्क पहनेंगे। साथ ही अपने परिजनों, रिश्तेदार व मित्रों को भी जागरूक करेंगे। हर व्यक्ति ने कहा कि वह आगे से मास्क पहनेंगे। गलती दोबारा दोहाराई नहीं जाएगी।

साहब, मुझे चाय-पानी तो पिला दिया, भोजन कौन खिलवाएगा

अस्थाई जेल के भीतर बंद मास्क न पहनने वालों को जिला प्रशासन ने चाय और पानी पिलाने के बाद नाश्ता कराया। उसके बाद लोगों ने जिला प्रशासन से कहा कि वह भोजन की और व्यवस्था करें। हालांकि, जिला प्रशासन ने उन लोगों से कहा कि केवल छह घंटे के लिए रखा है। आगे से वह प्रयास करें कि मास्क पहनें, ताकि जेल में न आना पड़े।

कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम से सीधी बातः

सवालः प्रशासन की सख्ती के बाद भी लोग मास्क के बिना घर से निकल रहे हैं?

जवाबः जागरूकता के बाद सख्ती भी की गई, लेकिन उसके बाद भी लोग अपने समाज और दोस्तों की जान जोखिम में डालने से बाज नहीं आ रहे हैं।

सवालः प्रशासन की सख्ती की वजह से 64 मास्क न पहनने वाले लोगों को अस्थाई जेल भेजा गया।

जवाबः हर व्यक्ति को समझना होगा कि वह मास्क पहनकर ही घर से निकले। दो दिन में 108 लोगों को अस्थाई जेल भेजा गया है। आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी।

सवालः आपने बाजार में जाकर जनता को मास्क पहनने को लेकर भी जागरूक किया।

जवाबः स्वयं के अलावा जिला और पुलिस प्रशासन की टीम ने खुद जागरूक किया है। लोग समझें कि मास्क पहनेंगे, तो उनका परिवार भी संक्रमित होने से बचेगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस