गुना। नवदुनिया प्रतिनिधि

शहर का भू-जलस्तर 800 फीट पर पहुंच गया है, तो सिंध नदी भी जनवरी में सूख चुकी है। ऐसे में शहर की जल सप्लाई ट्यूबवेलों पर टिक चुकी है। इन हालातों में नगरपालिका भी भविष्यांभावी जलसंकट को देखते हुए अपनी तैयारी में जुटी है। इसके लिए 30 नए ट्यूबवेल का खनन कराया जाएगा, तो 40 टैंकरों का इंतजाम भी किया है। ताकि जलसंकट वाले क्षेत्रों में टैंकरों से पानी पहुंचाया जा सके। दरअसल, जिले में इस बार औसत बारिश 1053.5 मिमी का आंकड़ा भी पूरा नहीं हो सका। इसका असर नदी-तालाबों और अन्य जलस्रोतों पर भी पड़ा है। क्योंकि, शहर की ज्यादातर जल सप्लाई सिंध नदी से होती है, जहां नपा ने 22 ट्यूबवेल का खनन भी कराया है। क्योंकि, जब नदी सूख जाती है, तो इन्हीं ट्यूबवेल से बड़ी टंकियों में पानी भरकर शहर में जल सप्लाई होती रही है। लेकिन इस बार सिंध नदी जनवरी माह में ही सूख चुकी है। ऐसे में सिंध स्थित ट्यूबवेल से ही जल सप्लाई की जा रही है। हालांकि, इससे शहर का आधा हिस्सा कवर हो रहा है, लेकिन बाकी क्षेत्रों में नगरपालिका द्वारा 400 ट्यूबवेल से शहरवासियों के घरों तक पानी पहुंचाया जा रहा है। हालांकि, वर्तमान में ज्यादा किल्लत नहीं है, लेकिन आधा दर्जन कॉलोनियां श्रीराम कॉलोनी, भार्गव कॉलोनी, नजूल कॉलोनी, गोकुलसिंह का चक आदि के कुछ हिस्से में पानी का संकट होने पर टैंकरों से जल सप्लाई की जा रही है।

गर्मियों तक नपा कराएगी 30 नए ट्यूबवेल

इधर, सिंध नदी के सूखने के बाद नगरपालिका जलप्रकोष्ठ ने भी जलसंकट की संभावना के चलते तैयारी की है। इसके लिए गर्मियों तक शहर के विभिन्ना क्षेत्रों में जरूरत मुताबिक 30 नए ट्यूबवेल का खनन कराया जाएगा। इसके अलावा 40 टैंकरों का इंतजाम भी नपा कर रही है, ताकि जलसंकट वाले क्षेत्रों में टैंकरों से पानी पहुंचाया जा सके। हाल ही में नगरपालिका द्वारा दो नए ट्यूबवेल का खनन कराया जा चुका है, क्योंकि जलस्तर गिरने से पानी की किल्लत होने लगी थी।

शहर में 25 जनवरी के बाद से ही ट्यूबवेल से जल सप्लाई की जा रही है। क्योंकि, सिंध जनवरी माह में ही सूख चुकी है। गर्मियों में जलसंकट की संभावना के चलते नपा ने तैयारी की है। नए ट्यूबवेल खनन के साथ ही टैंकरों का इंतजाम भी रहेगा। शहरवासियों को पानी के लिए परेशान नहीं होने दिया जाएगा।

- तेजसिंह यादव, मुख्य नगरपालिका अधिकारी गुना

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags