गुना। नवदुनिया प्रतिनिधि

जिले के डुंगासरा गांव की राजबाई मंगलवार को अधिकारियों के पास नेपाल की जेल में बंद ट्रक ड्राइवर बेटे को छुड़ाने की गुहार लगाती नजर आई। ट्रक ड्राइवर पिछले तीन महीने से जेल में बंद होने से घर की आर्थिक स्थित खराब है। उधर परिवार उसकी वतन वापसी को लेकर कई बार अधिकारियो से लेकर ट्रक मालिक के घर चक्कर लगा चुका है, लेकिन आज तक सुनवाई नहीं हुई है। उधर ट्रक ड्राइवर की मां ने ट्रक मालिक पर पैसे मांगने का आरोप भी लगाया है। कलेक्टर ने कहा कि इस मामले में जिला प्रशासन की ओर से प्रोसिस आगे बढ़ाएंगे। साथ ही भारतीय दूतावास के संज्ञान में इस मामले को लाया जाएगा। कलेक्ट्रेट में मंगलवार को जनसुनवाई के दौरान राजबाई साहू ने अधिकारियों से गुहार लगाई कि उसका बेटा पर्वत सिंह पेशे से ड्राइवर है। महूगढ़ा में रहने वाले बृजेश लोधा का ट्रक चलाता था। फरवरी महीने में वह ट्रक क्रमांक एमपी 08 जीए 4068 में सामान लोड करवाकर नेपाल ले गया था। इस दौरान ट्रक का एक्सीडेंट हो गया। नेपाल में एक्सीडेंट होने के बाद पुलिस ने वहां की जेल में बंद कर दिया है। यह बात परिजनों को ट्रक मालिक ने बताई है। अधिकारियों ने महिला को आश्वासन दिया कि वह इस मामले में कार्रवाई करेंगे।

जमानत के नाम पर ट्रक मालिक ने मांगे दो लाख

राजबाई साहू ने बताया कि पर्वत सिंह को छुड़ाने के लिए ट्रक मालिक बृजेश से संपर्क किया था। इस दौरान उसने दो लाख रुपये की व्यवस्था करने को कहा। ड्राइवर की मां ने कहा कि उसके घर में खाने को पैसे नहीं है। ऐसे में जमानत के लिए दो लाख रुपये की व्यवस्था कैसे करेंगी। नेपाल जेल में बंद ट्रक ड्राइवर के जेल में बंद होने की वजह से परिवार की आर्थिक स्थित खराब हो गई है। उधर उनकी भी रीड की हड्डी टूटी हुई है, जिसका इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है। ऐसे में मेरा परिवार दो लाख की व्यवस्था कैसे करेंगी।

जनसुनवाई में नेपाल में बंद ट्रक ड्राइवर का मामला सामने आया है। साथ ही ट्रक मालिक द्वारा ट्रक ड्राइवर के परिवार से पैसे मांग जा रहे है। जानकारी लेकर आगे की कार्रवाई की जाएगी। साथ जिला प्रशासन द्वारा भारतीय दूतावास से भी संपर्क किया जाएगा।

- फ्रेंक नोबल ए, कलेक्टर गुना

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close