ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। देश की लग्जरी ट्रेनों में शुमार शताब्दी एक्सप्रेस में ग्वालियर से भोपाल बरात में शामिल होने के लिए रविवार को 10 लोग बिना टिकट सवार हो गए। ट्रेन डबरा तक पहुंची थी कि टीटीई ने इन बरातियों से टिकट के बारे में पूछा। इस पर बराती हंगामा करने लगे। हंगामा होने पर टीटीई ने वीरांगना लक्ष्मीबाई स्टेशन झांसी में आरपीएफ के जवानों को बुला लिया। जवानों को देखकर बराती शांत हो गए और 19 हजार रुपये जुर्माना भरकर आगे के सफर के लिए चले गए।

जानकारी के अनुसार नई दिल्ली से रानी कमलापति स्टेशन की ओर जा रही ट्रेन नंबर 12002 शताब्दी एक्सप्रेस के सी-1 कोच में ग्वालियर से बराती सवार हुए थे। ये सभी बराती कमलापति स्टेशन जा रहे थे। शताब्दी एक्सप्रेस के ग्वालियर से चलने के बाद सी-1 में तैनात कोच टीटीई महेश चंद्र ने यात्रियों के टिकट चेक करना शुरू किए तो पता चला कि बरात में शामिल 10 बरातियों के पास टिकट ही नहीं था। सभी बिना टिकट यात्रियों ने बताया कि वे बरात में शामिल हैं और भोपाल जा रहे हैं। टीटीई ने जब इन सभी से जुर्माना भरकर रसीद कटवाने की बात कही, तो बिना टिकट यात्रियों के साथ ही उनके अन्य साथी भी भड़क गए और सभी ने मिलकर हंगामा शुरू कर दिया। झांसी स्टेशन पर आरपीएफ के जवान ट्रेन अटेंड करने पहुंच गए। आरपीएफ जवानों को देखकर बरातियों के तेवर ढीले पड़़ गए और 19 हजार रुपये की राशि जमा कर आगे के सफर के लिए रवाना हो गए।

अकाउंट से 57 हजार निकले

गोला का मंदिर स्थित रजनीगंधा अपार्टमेंट निवासी सीए नीतू व्यास के अकाउंट से आनलाइन ठगों ने 57 हजार उड़ा दिए। घटना 19 मई की है। फरियादी ने ठगी की लिखित शिकायत क्राइम ब्रांच थाने में की है। नीतू ने पुलिस को बताया कि गुरुवार को एक्सिस बैंक से उपभोक्ता केंद्र से रिवार्ड प्वाइंट एक्टिव करने के लिए काल आया। एक लिंक भेजी गई। लिंक ओपन करने पर फार्म खुला। इसमे कार्ड की जानकारी व व्यक्तिगत जानकारी भरनी थी। तकनीकी कारणों से फार्म सबमिट नही हुआ। उसके बाद अकाउंट से 57हजार रुपये का ट्रांजेक्शन होने का मैसेज आया।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close