- मृतका के माता पिता गए थे मजदूरी करने

ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। एक 11 वर्षीय बालिका ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। बालिका ने आत्मघाती कदम तब उठाया जब उसके माता-पिता मजदूरी करने के लिए गए थे। जब घर लौट कर आए तो देखा कि उनकी बेटी फांसी के फंदे पर लटकी हुई है। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। यह घटना गिरवाई क्षेत्र की है। गिरवाई थाना पुलिस ने बालिका के शव का पोस्टमार्टम कराकर स्वजनों के सुपुर्द कर दिया है। आत्महत्या की वजह जानने के लिए पुलिस पड़ताल कर रही है।

गिरवाई थाना प्रभारी रघुवीर मीणा ने बताया कि 11 वर्षीय किशोरी योगिता (परिवर्तित नाम) के माता पिता मजदूरी करके अपना परिवार पालते हैं। गुरुवार को माता और पिता मजदूरी करने के लिए गए थे। यह लोग रोज सुबह जाते हैं और शाम को ही घर लौटते हैं। रोज की तरह गुरुवार को भी बालिका के माता और पिता मजदूरी करने के लिए गए हुए थे। घर में उनकी बेटी अकेली थी। इसी दौरान उनकी बेटी ने दुपट्टे से फंदा बनाया और फांसी लगा ली। शाम करीब 7:00 बजे जब पति पत्नी घर लौट कर आए और दरवाजा खोल कर देखा तो उनकी बेटी फांसी के फंदे पर लटकी हुई थी। यह देखकर पति पत्नी की चीख निकल पड़ी। चीख सुनकर आसपास रहने वाले लोग यहां आ गए। जब किशोरी को फांसी के फंदे पर लटकी हुई देखा तो पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही गिरवाई थाने का फोर्स पहुंचा। जहां किशोरी फांसी के फंदे पर लटकी हुई थी, वहां तलाशी ली गई। शव को उतरवाकर पोस्टमार्टम हाउस भेजा। आत्महत्या की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं हुई है, इसके लिए पड़ताल चल रही है। पुलिस को पता लगा है कि कुछ दिनों से वह गुमसुम रहने लगी थी। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है और पता लगा रही है कि आखिर बालिका के साथ ऐसा क्या हुआ जिसकी वजह से उसे खुदकुशी करना पड़ी।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close