15 करोड़ की लागत से बनने वाली सड़कों पर पार्षदों को चुनने जाएंगे मतदाता

ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। पंचायत व निकाय चुनाव के लिए दो जून को आचार संहिता लागू होने वाली है। इससे पहले नगर निगम ने ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में 15 करोड़ की लागत से बनने वाली सड़कों के वर्क आर्डर जारी कर दिए हैं। ये सड़कें मानसून से पहले यानी 15 जून तक ठकेदार को बनानी हैं। इसका असर आने वाले निकाय चुनाव में देखने को मिलेगा, क्योंकि पार्षद प्रत्याशी जब वोट मांगने जाएगा तो वह विकास कार्य बताएगा और वोट मांगेगा। वर्तमान में ग्वालियर पूर्व विधानसभा सीट से कांग्रेस से सतीश सिकरवार विधायक हैं और इस क्षेत्र में पांच साल से सड़कें नहीं बनी हैं। इसस पहले 2014 में इस सीट से माया सिंह भाजपा से विधायक व मंत्री थीं, इसलिए इस क्षेत्र के वार्डों से परिषद में भाजपा के पार्षद भी अधिक थे।

ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में करीब 15 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली सड़कों के निर्माण के लिए वर्क आर्डर जारी कर दिए गए हैं। 15 जून से पहले यह सभी विकास कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, क्योंकि 15 जून से इंडियन रोड कांग्रेस के नियमों के अनुसार मानसून में सड़कों का कार्य नहीं हो सकेगा। ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में करीब पांच सालों से सड़कों का निर्माण नहीं हुआ है। इसके साथ ही अमृत योजना के तहत सबसे अधिक लाइनें भी ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में बिछाई गई हैं। ऐसे में यहां की सड़कों की हालत खराब है। लोगों को दो पहिया वाहन चलाने में पेरशानी का सामना करना पड़ता है। करीब तीन साल से खस्ताहाल सड़कों पर चल रही जनता इसकी नाराजगी नगर निगम के चुनाव में न उतार दे। इसके लिए नगर निगम मतदान से पहले सभी सड़कों का कार्य पूर्ण कर देगा।

15 करोड़ की लागत से यह बनेंगी सड़कें

- गोले का मंदिर से छह नबंर चौराहा डामरीकृत सड़क लागत 3 करोड़।

- आरोग्यधाम से महलगांव सीसी सड़क लागत 20 लाख।

- बारादरी से शहीद गेट तक डामरीकृत सड़क लागत 70 लाख।

-क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक 8 में वार्ड क्रमांक 18, 19, 25

- क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक 9 में वार्ड क्रमांक 20, 16, 17

- क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक 10 में वार्ड क्रमांक 22, 23, 28

- क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक 11 में वार्ड क्रमांक 30, 24, 21,

- क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक 12 में वार्ड क्रमांक 45 व 56

- क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक 13 में वार्ड क्रमांक 57, 58, 59

- क्षेत्रीय कार्यालय क्रमांक 14 में वार्ड क्रमांक 29 व 60

सड़क नहीं क्षेत्रीय कार्यालयों के हिसाब से तैयार की मास्टर फाइल

नगर निगम ने वार्डो में छोटी-छोटी गलियों, कालोनियों व मोहल्लों की अलग-अलग फाइल तैयार करने की जगह क्षेत्रीय कार्यालयों के हिसाब से 4.5- 4.5 करोड़ की लागत की दो फाइलें तैयार कर इनके वर्क आर्डर जारी कर दिए हैं। इन वार्डो में अब चुनाव के पहले विकास कार्य करा दिए जाएंगे।

यह होगा फायदा

अमृत योजना के तहत खोदी गई सड़कों के कारण आमजनों में काफी आक्रोश है, ऐसे में अगर पार्षद प्रत्याशी वोट मांगने के लिए जाते हैं तो उन्हें विरोध का सामना करना पड़ सकता था। साथ ही नगर निगम में भाजपा के पार्षदों की संख्या भी कम हो सकती थी। ऐसे में चुनाव के पहले कार्य प्रारंभ कर दिए जाने से वोट के लिए प्रचार करते समय नेताओं को विरोध का सामना नहीं करना पड़ेगा।

आचार संहिता में भूमिपूजन के विवादों से होगा बचाव

ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में आजकल नया ट्रेंड प्रारंभ हो गया है, स्थानीय विधायक सतीश सिकरवार का बीज निगम के अध्यक्ष मुन्नाालाल गोयल के समर्थक भूमिपूजन के समय विरोध करने लगते हैं। इसके कारण महलगांव व मुरार में दो बार विवाद की स्थिति भी बन चुकी है। वहीं नियम के अनुसार विकास कार्याें के भूमिपूजन में विधायक को आंमत्रित करना नगर निगम के अधिकारियों के प्रोटोकाल में आता है। आचार संहिता में भूमिपूजन, शिलान्यास, लोकार्पण सभी बंद हो जाएंगे। ऐसे में नगर निगम के अधिकारी आसानी से बिना विवाद के कार्य कर सकेंगे।

वर्जन

नगर निगम ने 15 करोड़ की लागत से ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में सड़कों के निर्माण के वर्क आर्डर जारी कर दिए हैं। मानसून प्रारंभ होने से पहले इन सभी सड़कों का निर्माण कार्य पूर्ण कर दिया जाएगा।

सुरेश अहिरवार, नोडल अधिकारी, ट्रैफिक सेल नगर निगम

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close