ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि। गोविंदपुरी में दंपती के साथ हैवानियत करने वाले कार सवार सिरफिरे बदमाशों में से पुलिस ने एक को थाटीपुर से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया है कि वही कार चला रहा था और उसी ने महिला के पति के सिर पर बोतल फोड़ी थी। अब पुलिस बदमाश के साथ वारदात में शामिल अन्य आरोपितों की तलाश में संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।

नईदुनिया ने 21 सितंबर के अंक में प्रमुखता से दंपती के साथ हुई हैवानियत का खुलासा किया था। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और 24 घंटे में एक आरोपित को हिरासत में ले लिया गया है। मंगलवार की सुबह पुलिस ने आरोपित विक्की सिंह उम्र 21 साल निवासी थाटीपुर को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही वारदात में प्रयुक्त स्विफ्ट कार भी आरोपित के घर से बरामद हो गई है। आरोपित ने पुलिस पूछताछ में बताया कि कार में 5 लोग सवार थे और वह खुद गाड़ी चला रहा था।

दंपती पर कमेंट किया तो पति ने उसका जवाब दिया, जिससे वह और उसके दोस्त भड़क गए। आरोपित ने यह भी कबूल किया कि उसी ने बीयर की बोतल महिला के पति के सिर पर फोड़ी थी और आंख को सिगरेट से जलाया था। पुलिस अन्य आरोपितों की तलाश में संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। हालांकि पुलिस अधिकारियों ने अब तक अधिकारिक रूप से इसका खुलासा नहीं किया है।

यह थी घटना

विश्वविद्यालय थानाक्षेत्र स्थित गोविंदपुरी रोड पर बाल सम्प्रेक्षण गृह के सामने पति के साथ खाना खाकर लौट रही 24 वर्षीय महिला व उसके पति से सफेद रंग की स्विफ्ट कार सवार बदमाशों ने हैवानियत दिखाई थी। घटना 16 सितंबर की रात 11 बजे की थी। आरोपितों ने महिला के पति के सिर पर बीयर की बोतल फोड़ी, आंख में जलती सिगरेट घुसेड़ दी। इसके बाद महिला को घसीटकर सड़क किनारे ले गए।

एक बदमाश ने उस पर बीयर की बोतल उड़ेल दी। महिला को सड़क पर छेड़ा फिर कार में डालकर ले जाने की कोशिश की। दंपती के साथ उनका एक दोस्त अमित भी था। उसको भी बेरहमी से पीटा गया। पीड़ित दंपती थाना पहंुचे तो वहां कोई प्रधान आरक्षक रामकिशन मिले।

उन्होंने बिना सुने समझे मारपीट का मामला दर्ज कर खानापूर्ति करके लौटा दिया। 20 सितंबर को इस मामले ने उस समय तूल पकड़ा जब सोशल मीडिया पर महिला के साथ सड़क पर बदसलूकी का वीडियो वायरल हुआ। इससे पुलिस की संवेदनहीनता और लापरवाही का उजागर हुई।

बीमा दिखाकर बोला-रजिस्ट्रेशन नहीं कराया

आरोपित ने स्विफ्ट कार के बीमा के कागज पुलिस को दिखाए हैं। उसने कहा कि कार उसकी खुद की है, लेकिन उसने अब तक रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है। कार पर फर्जी नंबर डालकर गाड़ी चला रहा था। गौरतलब है कि आरोपित की स्विफ्ट कार पर एमपी 07 टीई 0055 नंबर दर्ज है। परिवहन विभाग की साइट पर यह नंबर किसी अन्य कंपनी के चार पहिया वाहन का दिखाई दे रहा है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020