ग्वालियर, (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ब्राह्मण समाज के ऊपर की गई टिप्प्णी के बाद भाजपा नेता व पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के करीबी प्रीतम लोधी ने ब्राह्मण समाज से माफी मांगी है। शुक्रवार को प्रीतम लोधी भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा के पास पहुंचे और मुलाकात की। मुलाकात के दौरान ही उन्हाेंने अपना लिखित माफी नामा भी दिया। संगठन काे शायद उम्मीद थी कि इस माफीनामा के बाद हंगामा शांत हाे जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। प्रदेश के कई जिलाें में प्रीतम लाेधी के खिलाफ विराेध प्रदर्शन एवं एफआइआर दर्ज करने की मांग लगातार जारी रही। ऐसे में भाजपा ने शाम काे प्रीतम लाेधी काे पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित करने का आदेश जारी कर दिया है।

यह लिखा माफी नामे मेंः माफी नामे में प्रीतम लोधी ने बताया कि आज मीडिया में ब्राह्मण समाज के बारे में जो मेरी बोली गई बातें अलग अलग टुकड़ों में जोड़कर दिखाई गई हैं, वो बातें मैंने बोली हैं। यह मेैं स्वीकार करता हूं। किंतु स्वयं ब्राह्मण समाज एवं सभी समाजों का आदर करता हूंं किंतु मुझसे अज्ञानतावश यह भूल हो गई तथा मेरे विरोधी पक्ष ने मेरे बयान के टुकड़े टुकड़े जोड़कर ऐसा बना दिया गया है कि उससे ब्राह्मण समाज को निश्चित रूप से ठेस लगी होगी।

मैं अत्याधिक शर्मिंदा हूं एवं अपने आप को अपराधी महसूस करता हूं। बहन उमा भारती जी को भी कुछ समय पहले ही प्रकरण जानकारी में आया है, उन्हेांने मुझे आज्ञा दी है कि मैं बिना किसी लाग लपेट के सीधे सीधे अपने गुरु तुल्य ब्राह्मण समाज से क्षमा याचना करू। मैं ब्राह्मण समाज से क्षमा मांगता हूं। हमारे देश में भारतीय परंपराओं एवं हिंदू संस्कारों को बनाए रखने का कार्य ब्राह्मण समाज ने अनेकों कष्ट उठाकर के भी किया है। मैं प्रार्थना करता हूं कि बड़ा दिल दिखाकर मेरी गलती के लिए क्षमा कर देंगे।

ब्राह्मण समाज में आक्राेशः धर्म का प्रचार करने वाले ब्राह्मण और कथावाचकों को लेकर अमर्यादित वक्तव्य देने वाले भाजपा नेता प्रीतम लोधी पर शाम को ग्वालियर में भी एफआइआर दर्ज हुई। प्रीतम लोधी ने यह वक्तव्य शिवपुरी जिले में आम सभा के दौरान दिया, लेकिन उसका वीडियो पूरे प्रदेश में बहुप्रसारित हो रहा है। इसके चलते प्रीतम के इस बयान का विरोध ग्वालियर तक भड़क गया है। उसके विरोध में ब्राह्मण समाज के लोगों ने गुरुवार शाम को एसपी आफिस का घेराव किया, एसपी आफिस के सामने धरने पर भी बैठ गए। विरोध प्रदर्शन होने के बाद इस मामले में एफआइआर दर्ज कराई गई।

प्रीतम लाेधी ने भाषण में ये कहा थाः 17 अगस्त को वीरांगना रानी अवंति बाई लोधी की 191वीं जयंति पर बदरवास के ग्राम खरैह में आयोजित पंच-सरपंच, जनपद सदस्य व जिला पंचायत सदस्यों सहित छात्रों के सम्मान में भाजपा नेता प्रीतम लोधी ने ब्राह्मणों के लिए भरे मंच से काफी अपमानजनक शब्द कहे थे। प्रीतम सिंह लोधी वीडियाे में कह रहे हैं कि ब्राह्मण पूरे गांव से सामान-दक्षिणा लेता है और नौ दिन बाद रफूचक्कर हो जाता है। प्रीतम सिंह का तो यहां तक कह दिया कि ब्राह्मण यह देख लेता है कि सुंदर महिलाएं कौन-कौन से घर की हैं। उन्हीं घर के लोगों के नाम माइक से ले ले कर उन्हें इतना फुला देता है और कहता है कि महाराज आज शाम का भोजन आपके यहीं करेंगे। इसके बाद उक्त व्यक्ति उसकी बातों में पागल बनकर घर की सफाई करता है। पकवाना बनवाता है, उक्त ब्राह्मण उनके घर जाकर खाना तो खाता ही है और उसकी नजर कहीं और होती है। ऐसे खाना खा-खाकर ब्राह्मण लाल पड़ जाते हैं। इतना ही नहीं प्रीतम लोधी ने आगे यह भी कहा कि कथा के दौरान यह ब्राह्मण कहते हैं कि 20 से 30 साल की महिलाएं आगे बैठ जाओ। 30 से 45 साल की महिलाएं बीच में और बुड्ढी महिलाएं पीछे बैठ जाओ। इसके बाद यह गाने गा-गाकर उन्हें नचवाते हैं और खुद ऊपर बैठे आनंद लेते हैं।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close