ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

जीवाजी विश्वविद्यालय ने सप्लीमेंट्री परीक्षा फार्म भरने के लिए स्नातक प्रथम व द्वितीय वर्ष के छात्रों को चार दिन का वक्त और दिया है। 25 नवंबर तक बिना लेट फीस के साथ फार्म भर सकते हैं। इस वजह से अब सप्लीमेंट्री की परीक्षा दिसंबर में होने की संभावना है। इस परीक्षा के लेट होने से अन्य परीक्षाओं पर भी असर पड़ेगा।

जेयू ने 16 नवंबर से सप्लीमेंट्री के फार्म भरने की शुरूआत की थी, लेकिन रिजल्ट बनाने वाली कंपनी ने डाटा ही नहीं दिया था, जिसके चलते वेबसाइट पर फार्म नहीं खुल रहे थे। छात्र न फीस जमा कर पा रहे थे। न फार्म खुल रहा था। फार्म भरने की आखिरी तारीख भी निकल गई। छात्र फार्म नहीं भर पाए। इस कारण तारीख बढ़ानी पड़ी है। गुरुवार को कुछ परीक्षाओं के फार्म खुलने लगे हैं। साथ ही कंपनी से डाटा मांगा है ताकि छात्र फार्म भर सकें। इस परीक्षा के लेट होने से आगामी सत्र की परीक्षाएं भी प्रभावित हो सकती हैं।

पांच महीने देर से हो रही हैं परीक्षाएं

-वैसे सप्लीमेंट्री की परीक्षा जुलाई-अगस्त के मध्य में हो जानी थी। इन परीक्षाओं का रिजल्ट घोषित होने के बाद छात्र अपनी पढ़ाई शुरू कर सके, लेकिन पांच महीने देर से सप्लीमेंट्री परीक्षा हो रही है। रिजल्ट आने में भी समय लगेगा। पांच महीने बेकार हो गए हैं।

- अगर छात्र सप्लीमेंट्री की परीक्षा पास नहीं कर पाता है तो वह फेल जाएगा। उसे अपने वार्षिक परीक्षा की तैयारी के लिए भी ज्यादा समय नहीं मिलेगा। इससे छात्रों का नुकसान हो सकता है।

Posted By: Nai Dunia News Network