फोटो--------

ग्वालियर । नईदुनिया प्रतिनिधि

बरई स्थित जिनेश्वरधाम में पंचकल्याणक महोत्सव के दूसरे दिन गर्भकल्याणक के उत्तर रूप की क्रियाएं सम्पन्न हुई। इसमें माता मरुदेवी की गोद भराई की गई। जिनेश्वरधाम में स्थापित भगवान की मूर्तियों पर हल्दी, चंदन आदि का लेप लगाया गया। साथ ही नवीन मूर्तियों की आकार शुद्घि की गई। महाराज नाभिराज का राज दरबार भी सजाया गया।

पंच कल्याणक महोत्सव में गर्भ कल्याणक की उत्तर क्रियाओं को संपन्ना पंडितों द्वारा विधानपूर्वक कराया गया। वहीं इसका नाट्य मंचन भी किया गया। इसमें बताया गया कि जब अयोध्या नगरी के लोगों को खबर मिली कि माता के गर्भ में तीर्थंकर बालक का आगमन हुआ है, तो चहूंओर खुशी छा जाती है। इसके बाद महिला संगीत का आयोजन कर माता की गोद भराई की गई। इसके बाद अखंड सौभाग्यवती महिलाओं ने प्रतिष्ठित होने आईं प्रतिमाओं की आकार शुद्घि की।

महाराजा नाभिराज का सजा दरबार

शनिवार रात में जिनेश्वरधाम में महाराजा नाभिराज का दरबार सजाया गया। इसमें माता द्वारा देखे गए 16 स्वप्नों को राजा नभिराज को बताया। राजा नाभिराज ने माता के स्वप्नों के अर्थ उन्हें समझाए, साथ ही उनके फल भी बताए। इसके बाद छप्पन कुमारियों ने झूमते-गाते हुए माता मरुदेवी को उपहार भेंट कर उनसे कुछ प्रश्न किए। तदुपरांत माता के 16 स्वप्नों का मनोहारी नाट्य मंचन किया गया।

आज होंगी जन्म कल्याणक की क्रियाएं, पांडुक शिला पर होगा अभिषेक

कार्यक्रम के संयोजक पारस जैन ने बताया कि रविवार को पंचकल्याणक का महत्वपूर्ण दिन होगा। इस दिन तीर्थंकर बालक दुनिया में आएंगे। जन्म के बाद रविवार को बरई के पर्वत पर स्थित प्राचीन मंदिर परिसर में बनाई गई पांडुकशिला पर तीर्थंकर बालक का अभिषेक किया जाएगा। यह अभिषेक इंद्र-इंद्राणियों के साथ अन्य श्रद्घालुओं के अलावा महिलाएं भी कर सकेंगी।

जिनेश्वरधाम से जाएगी शोभायात्रा

तीर्थंकर बालक को शोभायात्रा के साथ जिनेश्वरधाम से पर्वत स्थित मंदिर ले जाया जाएगा। इस यात्रा में इंद्र-इंद्राणी गजराज, घोड़े पर सवार होकर जाएंगे। रास्ते में कुबेर इंद्र रत्नों की वर्षा करेंगे।

ये संस्थाएं कर रहीं सहयोग

पंचकल्याणक महोत्सव के दौरान विभिन्न व्यवस्थाओं द्वारा सहयोग किया जा रहा है। इनमें भारतीय जैन मिलन एवं पुलक चेतना मंच की ग्वालियर-शिवपुरी की सभी शाखाएं, दिगंबर जैन जागरण युवा मंच ग्वालियर, जैन युवा सेवा संघ मुरार, राजेश जैन लाला मित्र मंडल ग्वालियर, सोशल ग्रुप ग्वालियर, आदिनाथ मंडल पनिहार एवं समस्त जैन पंचायती समितियां, जैन महिला मंडल ग्वालियर-शिवपुरी की सभी शाखाएं, वरैया जैन जागृति महिला मंडल दाना ओली, विहर्ष बहु मंडल मामा का बाजार, आदिनाथ महिला मंडल पनिहार, दिगंबर जैन महिला परिषद नया बाजार और लश्कर, ग्वालियर, मुरार व शिवपुरी के सभी महिला एवं बालिका संगठन शामिल हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket