फोटो

ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

नगर निगम प्रशासन ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शहर में चार स्थानों पर बन रहे फ्लैट निर्माण का काम शुरू करा दिया है। प्रोजेक्ट में देरी होने पर निर्माण लागत बढ़ने की चिंता को देखते हुए यह कदम उठाया है। काम शुरू करने के दौरान साइट इंजीनियर कोरोना संक्रमण से बचाव के सभी मापदंडों का पालन कर रहे हैं।

हर रोज थर्मल स्क्रीनिंग

आवास निर्माण का कार्य अहमदाबाद की कतीरा कंसट्रक्शन कंपनी तथा गाजियाबाद की मनीषा कंसट्रक्शन कंपनी कर रही है। लॉकडाउन के पहले दोनों कंपनियों के ज्यादातर मजदूर अपने घर लौट गए थे। कुछ मजदूर यहीं फंसे हैं। इन्हीं मजदूरों से काम शुरू कराया गया है। इसके अलावा कुछ मजदूर स्थानीय भी पहुंच रहे हैं। हर रोज काम शुरू करने से पहले सभी मजदूरों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाती है। फावड़ा, तस्सल सहित सभी औजारों को सैनिटाइज किया जाता है। मजदूरों को मास्क व ग्लब्स भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। मानपुर प्रोजेक्ट के साइट इंजीनियर मनीष यादव का कहना है कि काम खत्म होने के बाद भी मजदूरों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाती है।

बैंकों से लिए हैं लोन

नगर निगम प्रशासन प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मानपुर पहाड़ी मोतीझील, सिटी सेंटर क्षेत्र के महलगांव तथा फूटी कॉलोनी में बहुमंजिला आवास बना रहा है। ज्यादातर फ्लैट्स की बुकिंग हो चुकी है। महलगांव में तो काम अंतिम चरण में है। कई फ्लैट्स का फिनिशिंग कार्य चल रहा है। लोगों ने बैंकों से लोन लिए हैं। उनकी किस्त जारी है। इसलिए वे समय पर फ्लैट की चाबी की मांग अथवा किस्त में राहत की मांग कर रहे हैं। दूसरी बात यह भी है यदि प्रोजेक्ट में देरी हुई तो निर्माण लागत बढ़ जाएगी और निर्माण एजेंसी हाथ खड़े कर देगी। लोगों ने जिस कीमत पर बुकिंग की है, वे उससे ज्यादा राशि नहीं देंगे। इसलिए निगम प्रशासन चिंतित है।

निजी निर्माण कार्यों को नहीं मिली छूट

प्रशासन ने सरकारी निर्माण कार्य तो शुरू करा दिए है, लेकिन शहरी क्षेत्रों में प्रायवेट कार्य पर रोक लगा रखी है। इससे मजदूर परेशान हैं। लॉकडाउन से पहले आवास के लिए जिन लोगों ने बैंक से लोन ले रखे हैं वे निर्माण को आतुर बैठे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में प्रशासन ने सरकारी व प्रायवेट निर्माण कार्यों को छूट दे रही है।

इनका कहना है

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत निर्माण कार्य शुरू करा दिए हैं। हर रोज सभी मजदूरों की थर्मल स्क्रीनिंग, सैनिटाइजेशन किया जाता है। मजदूरों को मास्क व ग्लब्स भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। सुरक्षित शारीरिक दूरी का भी विशेष ख्याल रखा जा रहा है।

पवन सिंघल, नोडल अधिकारी, पीआईयू, ननि

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना