ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सामान्य कोर्स संचालित करने वाले कॉलेजों की मान्यता के प्रस्ताव को जीवाजी विश्वविद्यालय की स्थायी समिति में रखा जाएगा। मान्यता देकर शासन को सूचित किया जाएगा। कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए उच्च शिक्षा विभाग ने कॉलेजों के निरीक्षण से बचने के लिए कहा है।

जेयू को कॉलेजों की मान्यता के लिए मार्च में निरीक्षण करना था। इसके लिए टीमें भी बना दी थी। लेकिन कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए लॉकडाउन घोषित कर दिया, जिसकी वजह से शिक्षण संस्थान बंद हो गए। लॉकडाउन आगे बढ़ता रहा, जिसकी वजह से निरीक्षण संभव नहीं था। इसके चलते उच्च शिक्षा विभाग ने सत्र 2020-21 के लिए मान्यता देने के लिए निरीक्षण से बचने की सलाह दी। इसी गाइड लाइन के आधार पर जेयू मान्यता देने जा रही है। बीए, बीकॉम, बीएससी कोर्स संचालित करने वाले कॉलेजों ने जो प्रोफार्मा भरकर जेयू को भेजा है, उसी आधार पर मान्यता दी जाएगी। इस प्रस्ताव को स्थायी समिति में ले जाया जाएगा। कुलसचिव आनंद मिश्रा का कहना है कि मान्यता पर फैसला लेकर शासन को सूचना दी जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना