ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि फोटो--------

जिला प्रशासन और पुलिस ने सोमवार को ट्रांसपोर्ट नगर स्थित आतिशबाजी के गोदामों पर छापेमार कार्रवाई की। थोक बिक्री लायसेंस होल्डरों के यहां 6 गोदाम मकानों में ही स्थित मिले। इन गोदामों की चाबी के लिए कारोबारियों ने दो से ढ़ाई घंटा एसडीएम और अमले को इंतजार करा लिया। सभी गोदामों की जांच की गई तो स्टॉक में गडबड मिली जितनी मात्रा लायसेंस के हिसाब से होना चाहिए थी,उससे ज्यादा माल पाया गया। वहीं बेसमेंट से लेकर पहली मंजिल पर भी आतिशबाजी रखी हुई थी जो कि लाससेंस की शर्तों का उल्लंघन है। एसडीएम जयति सिंह ने सीएसपी को मौके पर बुलाया और संयुक्त रिपोर्ट तैयार की। यह रिपोर्ट लायसेंसिंग अथॉरिटी को भेजी जाएगी।

ट्रांसपोर्ट नगर में पार्किंग नंबर 6 स्थित मकानों को ही आतिशबाजी गोदाम बना लिया गया है। बाहर शटर लगाकर अंदर भी शटरलगाकर कमरे बनाए गए हैं। एसडीएम मुरार जयति सिंह ने गिर्राज किशोर अग्रवाल,अनिल कुमार पंजवानी,मनोज कुमार ढ़ींगरा,पुरूषोत्तम केशवानी,संजय कुमार अष्टैया व राजेश ढ़ींगरा के गोदामों की जांच की। गिर्राज अग्रवाल के द्वारा गैलरी में भी मात्रा से अधिक आतिशबाजी का स्टॉक रखा गया था। इसके अलावा छत पर अस्थाई पार्टीशन कर आतिशबाजी का भंडारण पाया गया। मनोज ढ़ींगरा की छत से बिजली के तार निकल रहे थे जिसे तुरंत हटाने के निर्देश दिए गए। मौके पर मुरार तहसीलदार नरेश गुप्ता,पटवारी ज्ञान सिंह राजपूत, अकबर ,सीएसपी रत्नेश तोमर,एसआई रागिनी परमार आदि उपस्थित थे।

चाबी ला रहे हो आपलोग या सील कर दूं

आतिशबाजी कारोबारी काफी देर तक गोदामों की चाबी न होने का बहाना करते रहे,इसके बाद एसडीएम जयति सिंह ने कहा कि 4 बजे तक का टाइम आपके पास है,अगर चाबी नहीं ला रहे हैं तो कोई बात नहीं गोदाम सील कर दिए जाएंगे। एसडीएम ने कारोबारियों से कहा कि आप लोग एक तरह से शासकीय कार्य में बाधा डाल रहे हैं,यह सुन व्यापारियों ने फोन घुमाना शुरू किए और कुछ देर बाद चाबी आ गई।

1500 किलो के लायसेंसःगोदाम में 600 की आज्ञा

आतिशबाजी के थोक के लायसेंसों के लिए 1500 किलो की बारूद स्टॉक करने आज्ञा मिलती है। इसमें गोदाम पर 600 किलो रखी जा सकती है। खेरीज आतिशबाजी कारोबारियों के लिए 150 किलो रखने की आज्ञा है। यहां पानी,रेत और सुरक्षा उपकरण रखना अनिवार्य है जो किसी भी गोदाम में पर्याप्त नहीं मिले। वहीं अंडर वाटर टैंक किसी के यहां नहीं मिला और आतिशबाजी मिक्स रखी हुई थी जो रखना नियम खिलाफ है।

मेला आतिशबाजी कारोबारी बोले-ये हमारा स्टॉक

मेला के आतिशबाजी कारोबारी ट्रांसपोर्ट नगर गोदामों में छापे की खबर सुनते ही पहुंच गए। यहां मेला आतिशबाजी व्यवसाय संघ के अध्यक्ष हरीश दीवान व अन्य पहुंचे। इनका कहना था कि मेला आतिशबाजी कारोबारियों के पास स्टॉक रखने की जगह नहीं है इसलिए यहां आतिशबाजी रखवाई गई है। प्रशासन से जगह दिए जाने की मांग भी कर चुके हैं।

अनियमितताएं मिलीं हैं

ट्रांसपोर्ट नगर में आतिशबाजी गोदामों पर जांच की गई है,स्टॉक अधिक मिला है और सुरक्षा मानकों का पालन नही ंकिया गया है। संयुक्त प्रतिवेदन तैयार कर संबंधित अथॉरिटी को भेजा जा रहा है।

जयति सिंह,एसडीएम,मुरार

Posted By: Nai Dunia News Network