ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने सोमवार को सर्किट हाउस में स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक ली। स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने डेंगू, मलेरिया, चिकिनगुनिया जैसी गंभीर बीमारी से शहर को छुटकारा दिलाने के लिए कहा। उन्होंने सीएमएचओ को डेंगू की बीमारी से निपटने के लिए फ्री हैंड करते हुए कहा कि प्रचार प्रसार से लेकर होर्डिंग, पेंटिंग करवाएं । इसके साथ ही जिन घरों में या प्लॉट में डेंगू , मलेरिया के मच्छर का लार्वा मिलता है वहां पर कार्रवाई कर जुर्माना भी लगाएं। निगम अमला फौगिंग व जुर्माना बसूलने का काम करे। जिससे लोगों में जागुरुकता के साथ जुर्माना का भी भय हो। इसके साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ता भी अपने अपने वार्ड में डेंगू को लेकर लोगों में जागुरुकता फैलाएं।

समीक्षा बैठक में कलेक्टर अनुराग चौधरी, निगम कमिश्नर संदीप माकिन, सीएमएचओ डॉ मृदुल सक्सेना सहित कांग्रेस जिला अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, महामंत्री सुनील शर्मा, सहित प्रशासनिक व स्वास्थ्य अधिकारी मौजूद रहे।

कर्मचारी बढ़ाएं-

मलेरिया विभाग को गली मोहल्ले में दवा का छिड़काव व डेंगू लार्वा की जांच के निर्देश दिए गए। जिस पर मलेरिया विभाग ने कर्मचारियों की कमी और क्षेत्र बड़ा होने की समस्या रखी। इस पर स्वास्थ्य मंत्री ने 25 कर्मचारी भर्ती करने के लिए कहा। कलेक्टर को निर्देश दिए कि मलेरिया विभाग को कर्मचारी किसी निधि से उपलब्ध करवाएं यह आप देखें।

सात दिन का नोटिस फिर जुर्माना-

निगम कमिश्नर को स्वास्थ्य मंत्री ने निर्देश जारी करते हुए कहा कि खाली पड़े भूखंड में पानी भरता है जिससे मच्छर पनपते हैं। उन भूखंड मालिकों को सात दिन का नोटिस जारी करें यदि वह सात दिन में भूखंड साफ न करें तो जुर्मना बसूलें।

Posted By: Nai Dunia News Network