ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। गर्मी में नींबू की खपत बढ़ जाती है। क्योंकि नींबू ही गर्मी से राहत दिलाने में कारगार माना जाता है। हर घर में नींबू का उपयोग गर्मी आते ही उपयोग हो जाता है। पर इस बार नींबू की फसल खराब होने से बहुत मंहगा बिका है। इसलिए घर घर में नींबू को पहुंचने में देरी लगी है। डायटीशियन डा शुभा गुप्ता बताती हैं कि नींबू विटामिन सी का बेहतर स्रेत है। साथ ही, इसमें विभिन्न विटामिन्स जैसे थियामिन, रिबोफ्लोविन, नियासिन, विटामिन बी- 6 विटामिन-ई की थोड़ी मात्रा मौजूद रहती है। यह खराब गले, कब्ज, किडनी और मसूड़ों की समस्याओं में राहत पहुंचाता है। साथ ही ब्लड प्रेशर और तनाव को कम करता है। नींबू का शरबत हमारे देश का सबसे सस्ता व सबसे अच्छा पेय पदार्थ इसे देशी भाषा में कोल्ड्रिंक कहा जाता है। जो ताजगी के साथ स्फूर्ति का अनुभव कराता है और गर्मी से निजात दिलाता है। पाचन तंत्र ठीक रखता है तथा स्वास्थ्य वर्धक होता है।

सामग्री-

नींबू का रस- 1 बाउल (250 लगभग मिली.)

चीनी- 3 बाउल

पानी- 1.5 बाउल

काला नमक- 2-3 टी स्पून

नमक- 2 टी स्पून

इस तरह बनाएं:

नींबू का रस निकाल लीजिए। मोटे तली के स्टील के बर्तन में अंदर के बाजू में थोड़ा सा घी लगाइए ताकि जब हम इसमें चाशनी बनाएं तो वो तली में चिपके नहीं। अब इस बर्तन में जिस बाउल से हमने नींबू का रस गिन कर लिया था, उसी बाउल से गिन कर तीन बाउल चीनी बर्तन में डालिए। इस में पानी डाल कर चम्मच से मिला कर गैस पर रखिए। चीनी पिघलने तक और चाशनी में उबाल आने तक बीच-बीच चम्मच से हिलाते रहे ताकि चीनी तले में चीपके नहीं। चीनी में उबाल आने पर दो-तीन मिनट चाशनी को और उबाले। ध्यान दीजिए कि हमें चाशनी नहीं बनानी हैं। हमें सिर्फ़ चीनी और पानी को अच्छे से उबालना मात्र हैं। मिश्रण ठंडा होने पर उस में नींबू का रस मिलाइए। नींबू का रस कभी भी गरम पानी में नहीं मिलाना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से शरबत में कडवाहट आ जायेगी।शरबत को चलनी से छान लीजिए। ताकि चीनी में का कचरा छन कर निकल जाएं। दूसरी विधि यह भी है कि एक नींबू काे काटकर उसे एक गिलास पानी में डाले और एक चम्मच शक्कर व बफ डालकर पीएं काफी स्वादिष्ट लगता है।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close