ग्वालियर। नईदुनिया रिपोर्टर

आईटीएम यूनिवर्सिटी ने पर्यावरण संरक्षण के प्रति सरोकार रखने की दिशा में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन शनिवार को करेगा। शुरुआत सुबह 6 बजे प्रभात रैली से होगी। इसमें आईटीएम यूनिवर्सिटी, आईटीएम ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के स्टूडेंट्स, फैकल्टी, स्टाफ, एनसीसी कैडेट्स व एनएसएस सदस्यों के साथ शहरवासी शामिल होंगे। फेरी साइंस कॉलेज, चेतकपुरी चौराहे से शुरू होकर माधव नगर, रंग महल, बसंत विहार, एनआईसी चौराहा होते हुए लक्ष्मीबाई समाधि स्थल के सामने स्थित मैदान पहुंचकर खत्म होगी। फेरी के बाद जनजागरुकता कार्यक्रम भी होगा, जिसमें शहरवासियों को तुलसी के पौधे वितरित किए जाएंगे।

नाटक से दिया मानसिक रोगियों से अच्छा व्यवहार करने का संदेश- फोटो

ग्वालियर। नईदुनिया रिपोर्टर

वीआईएसएम ग्रुप ऑफ स्टीडज में वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे पर कई कार्यक्रम हुए। इसके तहत जेआईएनआर के स्टूडेंट्स ने मानसिक रोग विषय पर लघु नाटिका का मंचन किया । पोस्टर व पीपीटी प्रेजेंटेशन कॉम्पीटिशन भी हुआ। पोस्टर प्रेजेंटेशन में बीएससी प्रथम वर्ष के दिव्य प्रकाश व अश्वनी और पीपीटी प्रेजेंटेशन में बीएससी तृतीय वर्ष की सोनाली पहले स्थान पर रहीं। स्पीच कॉम्पीटिशन में बीएससी तृतीय वर्ष के रोहित कुशवाह पहले स्थान पर रहे। मुख्य अतिथि मानसिक रोग विशेषज्ञ संजीव सक्सेना थे। उन्होंने कहा कि यदि हम मानसिक रूप से स्वस्थ नहीं होंगे तो कोई भी काम करने में सक्षम नहीं होंगे। इस मौके पर संस्थान के चेयरमैन डॉ. सुनील राठौर, चेयरपर्सन सरोज राठौर, निदेशक डॉ. प्रज्ञा सिंह आदि मौजूद थीं।

तकनीकी शिक्षा तब ही सार्थक है जब लोगों के जीवन में बदलाव ला सके- फोटो

ग्वालियर। नईदुनिया रिपोर्टर

विक्रांत ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस में गुरुवार को मंजरी फाउंडेशन के संस्थापक संजय शर्मा का अतिथि व्याख्यान हुआ। उन्होंने पिछले 17 वर्षों में धौलपुर व उसके आसपास के स्थानों की पिछड़े वर्ग की 80 हजार महिलाओं को इंजीनियरिंग व मैनेजमेंट की शिक्षा के जरिए स्वरोजगार योग्य बनाया। इन महिलाओं ने 80 करोड़ का वार्षिक व्यवसाय किया। उन्होंने कहा कि तकनीकी ज्ञान तब ही सार्थक है जब हम उसका उपयोग कर अपने परिवेश में रहने वाले ग्रामीण लोगों के जीवन में गुणात्मक परिवर्तन ला सकें। स्वागत समूह के नवनियुक्त निदेशक संजय शर्मा ने किया। इस मौके पर समूह के चेयरमैन आरएस राठौर, प्रिंसिपल प्रो. पवन अग्रवाल, डीएमडी जगविंदर कौर आदि मौजूद थे।

शिक्षकों के लिए हुई मोटिवेशनल वर्कशॉप- फोटो

ग्वालियर। नईदुनिया रिपोर्टर

ग्वालियर ग्लोरी हाई स्कूल में शिक्षकों के लिए मोटिवेशनल वर्कशॉप हुई। मुख्य वक्ता श्वेता तलवार थीं। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को इस तरह से प्रेरणादायी बनना चाहिए कि वे सिर्फ विद्यार्थियों के लिए ही नहीं बल्कि समाज और देश के लिए भी प्रेरणा का स्त्रोत बनें। वर्तमान समय में संस्कार जनित शिक्षा की जरूरत है। कार्यशाला में शॉर्ट फिल्में दिखाने के साथ कई एक्टिविटीज भी हुईं।

Posted By: Nai Dunia News Network