ग्वालियर (ब्यूरो)। क्राइम ब्रांच ने गुरुवार सुबह सिरोल बायपास से 30 लाख रुपए की स्मैक के साथ 3 तस्करों को गिरफ्तार किया था। इस दौरान पुलिस ने तस्करों से सफेद रंग की कार व एक बाइक बरामद की थी। जांच में तस्करों से बरामद की गई कार दतिया जिले में पदस्थ होमगार्ड कमांडेंट रिपुदमन सिंह की निकली है। कमांडेंट के चालक वीरेंद्र सिंह की रिपोर्ट पर उससे कार मांगकर ले जाने वाले दोस्त विजय उर्फ भरोसी सिंह चौहान के खिलाफ बहोड़ापुर थाना पुलिस ने अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज किया था। जबकि कार मामला दर्ज होने से पहले स्मैक तस्करों से बरामद की जा चुकी थी। इस दौरान विजय उर्फ भरोसी से भी स्मैक बरामद हुई थी। इस मामले में टीआई का कहना है कि केस दर्ज होने के बाद स्मैक तस्करों से कार बरामद होने का पता चला।

बहोड़ापुर थाने के टीआई विवेक अष्ठाना ने बताया कि गुरुवार की रात 8 बजे के लगभग वीरेंद्र सिंह चौहान निवासी आनंद नगर ने सूचना दी थी कि वह दतिया जिले में होमगार्ड कमाडेंट रिपुदमन सिंह निवासी आनंद नगर की कार चलाता है। जिला भिंड निवासी विजय उर्फ भरोसी चौहान उसके गांव के पास का रहने वाला है, इसलिए भरोसी से उसकी मित्रता है। एक-दो बार वह मेरी अनुपस्थिति में कार ड्राइव कर चुका है।

15 मई की रात को भरोसी ने बताया कि उसे स्टेपनी बदलने जाना है, 10 मिनट में लौटकर आ जाएगा। इसके बदले उसे 200 रुपए का फायदा होगा, उसमें से आधे वीरेंद्र को देगा। इसके बाद वीरेंद्र ने उसे कार दे दी लेकिन वह लौटा नहीं। रातभर उसने भरोसी का इंतजार किया लेकिन जब वो नहीं आया तो सुबह पहले उसने तलाश किया, लेकिन वो कार सहित गायब हो गया। इसके बाद बहोड़ापुर थाना पुलिस ने वीरेंद्र सिंह की सूचना पर भरोसी चौहान के खिलाफ अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज कर लिया। चालक का कहना है कि वह गुरुवार की दोपहर को भरोसी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए थाने आया था। स्टाफ ने कहा कि या तो शाम तक कार आ जाएगी, अन्यथा थाना प्रभारी के थाने आने पर वे मामला दर्ज कर लेंगे।

कार क्राइम ब्रांच ने बरामद की थी

टीआई ने बताया कि मामला दर्ज होने के बाद कार की तलाश की। पड़ताल करने पर पता चला कि इस नंबर की कार क्राइम ब्रांच ने 30 लाख की स्मैक के साथ पकड़े गए तीन तस्करों से बरामद की है। आरोपियों में होमगार्ड कमांडेंट के ड्राइवर वीरेंद्र सिंह का दोस्त भरोसी चौहान भी शामिल है। भरोसी ने पूछताछ में बताया था कि जब्त कार का मालिक वह स्वयं है। पुलिस ने बताया कि चालक वीरेंद्र सिंह व भरोसी के बयान की सच्चाई का पता लगाने के लिए जांच कर रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network