ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्वालियर से चार शहरों के लिए हवाई सेवाओं को बंद करने की खबर सामने आने के बाद अब एक अच्छी खबर भी मिली है। शहर से एयरबस चलाने की जो तैयारी की जा रही है, वह जल्द धरातल पर भी उतरेगी। एयरबस को लेकर निजी विमान कंपनी इंडिगो की टीम ने सर्वे किया था, लेकिन यहां एप्रन एरिया (विमान पार्क होने वाला स्थान) छोटा था और कुछ अहम बदलाव भी होने थे। इसी को लेकर एयरपोर्ट प्रबंधन की ओर से तैयारी चल रही थी, जिसे पूरा कर लिया गया है। एयरबस के संचालन को लेकर अब हरी झंडी मिल चुकी है। वहीं स्पाइस जेट प्रबंधन भी अपनी आगामी हवाई सेवाओं को लेकर मंथन कर रहा है। ़ग्विालियर से निजी विमान कंपनी इंडिगो की भी हवाई सेवा भी जारी हैं। कंपनी की ओर से हाल ही में एयरबस चलाने को लेकर प्रस्ताव लाया गया, जिसके बाद ग्वालियर एयरपोर्ट पर सर्वे के लिए टीम भी पहुंची। वर्तमान में ग्वालियर से जो विमान चल रहे हैं वह कम क्षमता के हैं। ग्वालियर से अगर एयरबस चली तो बड़ी संख्या में यात्री इसमें सफर कर सकेंगे। स्पाइस जेट कंपनी की मौजूदा स्थिति में छह हवाई सेवाएं चल रही हैं। इसमें से चार हवाई सेवाओं को एक सितंबर से 24 सितंबर के बीच बंद कर दिया जाएगा। इसको लेकर कम यात्री संख्या या दूसरी तकनीकी वजह हो सकतीं हैं। इस संबंध में जब स्पाइस जेट के फराज सिद्घीकी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि उच्च स्तर पर यह निर्णय लिए जाते हैं। वहां से आने वाली जानकारी के आधार पर स्थानीय स्तर हम कार्य करते हैं।

ग्वालियर में पहले छोटी एयरबस से हो सकती है शुरुआत, कम हो सकता है किराया

- वर्तमान समय में ग्वालियर से चलने वाली आठ फ्लाइटों में सबसे बड़ी समस्या किराए की आती है। इसकी तुलना में ट्रेन से सफर करना काफी सस्ता होता है। इसको लेकर पहले भी मांग उठी थी। अब निजी विमान कंपनी की ओर से एयरबस अगर चलाई जाती है तो किराए में कमी आ सकती है। एयरबस में यात्री क्षमता अधिक होती है और यह 180 सीटर से 350 सीटर तक की क्षमता की होती है। ग्वालियर में पहले छोटी एयरबस से शुरुआत की जा सकती है।

- व्यापारिक संगठन करेंगें मांग, कम न हों हवाई सेवा: स्पाइस जेट की हवाई सेवा सीमित करने के मामले में व्यापारिक संगठन भी प्रयास करेंगें। इसके लिए नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समक्ष मांग रखी जाएगी कि ग्वालियर की हवाई सेवाओं को कम नहीं किया जाए, बल्कि इनका विस्तार जारी रहे।

ग्वालियर में हवाई सेवाओं का विस्तार होना चाहिए, ना कि कम हों। नागरिक उड्डयन मंत्री ग्वालियर के हैं, उनके मंत्री बनने से पहले जो यहां हवाई सेवाएं चल रहीं थीं,वह बंद हो गईं। मैनें पुणे हवाई सेवा को लेकर उन्हें पत्र भी लिखा था। वह बंद चल रही है, उसे भी बहाल किया जाना चाहिए। मैं उनसे इस विषय पर चर्चा करुंगा। हवाई सेवाएं कम होना शहर के विकास के लिए नुकसानदायक है। यह स्थिति तब है जब यहां नए एयर टर्मिनल को लेकर यहां तैयारी की जा रही है।

विवेक शेजवलकर, सांसद ग्वालियर

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close