ग्वालियर,(नईदुनिया प्रतिनिधि)। वन विभाग में नौकरी लगवाने का झांसा देकर थाटीपुर इलाके में रहने वाले युवक के साथ ठगी हो गई। उसे तीन लोगों ने नौकरी लगवाने का झांसा दिया, 14 लाख रुपये हड़प लिए, फिर फर्जी नियुक्ति पत्र थमा दिया। जब वह नियुक्ति पत्र लेकर जाइनिंग करने पहुंचा, तब फर्जीवाड़े की पोल खुली। इस मामले में युवक कई दिनों तक थाने के चक्कर काटता रहा, तब जाकर एफआइआर हुई। इस मामले में तीन लोगों ने ठगी की, लेकिन एफआइआर सिर्फ एक पर ही हुई।

थाटीपुर स्थित श्रीनगर कालोनी के रहने वाले पूरन इंदौरिया की मुलाकात रवि सोलंकी से हुई थी। रवि ने वन विभाग में नौकरी लगवाने का झांसा दिया। उसने पूरन को उत्तम सिंह और चेतन मारू से यह कहकर मिलवाया कि यह लोग अधिकारी हैं। इसके बाद उससे अलग-अलग बार में 14 लाख रुपये ले लिए। फर्जी नियुक्ति पत्र भी थमा दिया। जब नियुक्ति पत्र लेकर जाइनिंग के लिए पहुंचा तब फर्जीवाड़ा खुला। इसके बाद जब ठगों से मिला तो इन लोगों ने झूठा केस लगवाकर फंसाने की धमकी दी। पूरन ने इसकी शिकायत की। कई बार थाने के चक्कर काटे तब जाकर थाटीपुर थाने में एफआइआर दर्ज हुई।

एनसीसी ट्रेनिंग सेंटर में नौकरी लगवाने के नाम पर 3 लाख रुपये ठगेः पीडब्ल्यूडी के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने एक बेरोजगार युवक के साथ ठगी की है। युवक को एनसीसी ट्रेनिंग सेंटर में नौकरी लगवाने का झांसा दिया और 3 लाख रुपये हड़प लिए। इस मामले में पड़ाव थाने में युवक ने शिकायत की है। डबरा के रहने वाले धीरज तिवारी ने बताया कि उसकी मुलाकात पीडब्ल्यूडी के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से कलेक्ट्रेट में हुई थी। उसने झांसा दिया कि वह एनसीसी ट्रेनिंग सेंटर में उसकी नौकरी लगवा देगा। नौकरी लगवाने का झांसा देकर 3 लाख रुपये हड़प लिए। कई दिनों तक जब उसकी नौकरी नहीं लगी तो उससे रुपये वापस मांगे। इस पर ठगी करने वाले ने ही धमकाना शुरू कर दिया। इस मामले में पड़ाव थाने में शिकायती आवेदन दिया है। पड़ाव थाना पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close