ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। ठंड के कारण ठीकाकरण की रफ्तार घट गई है। सुबह घटना कोहरा ठंडी हवा के कारण केंद्र खाली पड़े रहे। बच्चे और बड़े कोई भी केंद्रों पर टीका लगवाने नहीं पहुंचा। लेकिन दोपहर में जब धूप खिली तो केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हुआ। जिसके चलते मंगलवार को 4 हजार लोगों केा टीका लगा। अबतक 1.14 लाख बच्चों का टीकाकरण हो चुका है। यह वे बच्चे हैं जो किसी न किसी स्कूल के छात्र हैं। अब शाला त्यागी व अप्रवेशी बच्चे टीकाकरण से वंचित है जिनकी तलाश की जा रही है। इस कारण से स्वास्थ्य विभाग ने निर्देश जारी कर दिए हैं कि 15 से 18 साल का कोई भी बालक किसी भी केंद्र पर पहुंचकर टीका लगवा सकता है। क्योंकि स्कूलों में लगभग टीकाकरण पूर्ण हो चला है। बुधवार को करीब तीन सैकड़ा केंद्रों पर 40 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

4154 को लगा टीका

ढाई सौ केंद्रों पर मंगलवार को 4154 को टीका लगा। जिसमें 1500 किशोरों ने टीका लगवाया, 1100 लोगों ने सतर्कता टीका लगवाया और 1200 लोगों ने दूसरा टीका लगवाया। जिले में अबतक 16 लाख 78 हजार 67 लोगा पहला टीका लगवा चुके है और दूसरा टीका 14 लाख 88 हजार 260 लोगों ने लगवाया। जबकि कुल टीका 31 लाख 82 हजार 722 लोग लगवा चुके हैं। अबतक कुल सतर्कता डोज 16 हजार 395 लगे हैं।

इनका कहना है

1.14 लाख बच्चों का टीकाकरण हो चुका है। शासन ने जो लक्ष्य दिया है उसे भी पूरा किया जाएगा। स्कूल में अध्यनरत छात्रों में अब वही बचे जो शहर में नहीं है या फिर बीमार है। जिनका टीकाकरण भी जल्द हो जाएगा। बाकी अब किशोर किसी भी टीकाकरण केंद्र पर टीका लगवा सकेगा।

डा रामकुमार गुप्ता , टीकाकरण अधिकारी

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local