ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Corona virus effect in Madhya Pradesh कोरोना वायरस आखिरकार ग्वालियर पहुंच गया। ग्वालियर अंचल में दो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने पर हड़कंप मच गया। ग्वालियर और शिवपुरी का एक-एक युवक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। युवकों को क्वाइंटाइन वार्ड में इलाज शुरू कर दिया गया है। ग्वालियर में तीन माह पहले ही युवक पत्नी के साथ रहने आया था। वह एक टायर कंपनी में कार्यरत है और खजुराहो कंपनी के काम से गया था। जिस होटल में वह ठहरा थाा वहां पर कुछ विदेशी लोग भी ठहरे थे।

युवक प्रयागराज का रहने वाला है। उसकी पत्नी का भी सैंपल लेकर डीआरडीओ जांच के लिए भेजा गया है।

ग्वालियर के चेतकपुरी में किराए से रहने वाला युवक (36) 10 दिन पहले खजुराहो से लौटा था। उसे सर्दी,जुकाम, खांसी और बुखार की परेशानी हुई तो तीन दिन तक उसने शहर के माधव डिस्पेंसरी की ओपीडी में इलाज लिया। जब कोई फायदा नहीं हुआ तो वह जिला अस्पताल पहुंचा। जहां पर उसे आईसोलेशन में भर्ती कर लिया गया।

रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर चेतकपुरी,विजय नगर, माधव नगर, बंसत विहार के पूरे क्षेत्र को सील कर दिया। इस क्षेत्र में नगर निगम की टीम दवा का छिड़काव कर रही है और कॉलोनी वासियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके साथ ही क्वारंटाइन में रह रही उसकी पत्नी का सैंपल लेकर जांच के लिए डीआरडीओ भेजा गया है।

लापरवाही की हद, दुबई से आया था, सैंपल देने के बाद घर चला आया

शिवपुरी के माधवनगर स्थित मुदगल कालोनी के रहने वाले एक युवक (28) को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। तीन दिन पहले भेजा गया सैंपल पॉजिटिव आते ही जिले भर में हडकंप मच गया। आनन फानन में शहर को कर्फ्यू के हवाले कर दिया गया है। जिले के अन्य स्थानों पर 31 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा। इस बीच युवक को पॉजिटिव पाए जाने पर जिला अस्पताल की टीम उनके घर पहुंची और जिला अस्पताल लेकर आई।

यहां उसका इलाज किया जा रहा है। युवक 18 मार्च को दुबई से शिवपुरी लौटा था। लेकिन उसने इस बात की जानकारी किसी को नहीं दी। आसपास के लोगों ने जानकारी मिलने के बाद प्रशासन को अवगत कराया था। 20 मार्च को उसका सैंपल लिया गया और उसे अस्पताल में रखा गया, लेकिन वह घर आ गया। इसके बाद वह कई लोगों के संपर्क में आया है। यहां तक की इलाके में पानी के लिए उपलब्ध एक मात्र नलकूप पर न सिर्फ दीपक पानी भरने गया।

पड़ोसियों ने कहा- दुबई की बात बताने पर किया झगड़ा

पॉजिटिव मिले युवके पड़ोसियों ने कहा कि उन्होंने जिला प्रशासन को बताया था कि सैंपल देने के बाद युवक घर आ गया है। उसने पड़ोेसियों से इस बात पर झगड़ा किया कि उन्होंने दुबई से आने की बात प्रशासन को क्यों बताई। लोगों ने प्रशासन से कहा कि उसे अस्पताल में तब तक रखें जब तक रिपोर्ट नहीं आ जाती, लेकिन न तो उसे अस्पताल ले जाया गया न ही उसे घर में नजरबंद करने के कोई ठोस उपाय किए गए। जिसके नतीजे में इलाके के लोग रिपोर्ट आने के बाद दहशत में हैं।

बॉर्डर लाइन पॉजिटिव है दीपक, एक और टेस्ट होगा

डॉ. संजय ऋषिश्वर ने जानकारी देेते हुए बताया कि दीपक शर्मा के डीआरडी में हुए टेस्ट में युवक की रिपोर्ट बॉर्डर लाइन (हल्का संक्रमण) पॉजिटिव पाया गया है। इसका एक टेस्ट और कराया जा रहा है। वहीं, युवक के परिवार के लोगों का भी चेकअप जारी है। साथ ही उन लोगों का भी चेकअप होगा। जिनके संपर्क में दीपक रहा है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan