ग्वालियर,(नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्रामीण क्षेत्र से निकलकर लंपी का वायरस शहर में निराश्रत गाेवंश काे अपना शिकार बना रहा है। बुधवार को माधव नगर में एक निराश्रित गाय की मौत हो गई। गाय के बीमारी की सूचना पशु चिकित्सा विभाग को दी गई थी, लेकिन जब तक टीम पहुंची, तब तक गाय के प्राण निकल चुके थे। गाय के शरीर पर ददोरे साफ नजर आ रहे थे। लंपी वायरस में भी गाेवंश के शरीर पर गांठे उभर आती हैं।

ग्वालियर जिले में बुधवार को 30 गाेवंश लंपी वायरस की चपेट में आ गया। यदि ग्वालियर चंबल अंचल की बात करें तो 287 गाेवंश लंपी वायरस के चलते बीमार होने की पुष्टि हुई है। राहत की बात यह है कि बुधवार को किसी भी गाय की लंपी वायरस के चलते मौत का आंकड़ा नहीं है, लेकिन वैक्सीन की कमी परेशानी खड़ी कर रही है। इधर बंधौली स्थित गाेशाला में 90 से अधिक संदिग्ध गाय को क्वारंटाइन किया जा चुका है। पशुओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है, जिसको लेकर जल्द ही एक नई गाेशाला को क्वारंटाइन सेंटर बनाया जाएगा। हालांकि पशु चिकित्सा विभाग के अफसरों का दावा है कि गुरुवार तक उनके पास अंचल भर के लिए दो लाख से अधिक डोज की उपलब्धता हो जाएगी।

कहां पर कितने बीमार गाेवंशः

जिला प्रभावित गांव आज मिले पशु अब तक मिले पशु

ग्वालियर 35 30 147

दतिया 11 01 16

शिवपुरी 76 13 75

गुना 16 03 09

अशोक नगर 06 00 00

भिंड 55 25 70

मुरैना 407 202 581

श्योपुर 82 13 104

19 गाेवंश ने गंवाई जानः ग्वालियर चंबल अंचल में लंपी वायरस के कारण अब तक 19 गाेवंश की जान जा चुकी है। जबकि दर्जन भर गाय की जान संदिग्ध अवस्था में गई है। लंपी वायरस की चपेट में गाेवंश तेजी से आ रहा है। वैक्सीन की कमी के कारण टीकाकरण ठीक से नहीं हो पा रहा है। बधवार को ग्वालियर जिले में महज 272 टीका लगाए गए, जबकि दतिया में 631,शिवपुरी में 993,गुना में 2700, अशोक नगर में 103, भिंड में एक भी टीका नहीं लग सका, वहीं मुरैना में 1167 और श्योपुर में 493 पशुओं का टीकाकरण हुआ। जिन जिलों में केस बढ़ रहे हैं, वहां पर वैक्सीन की कमी के कारण टीकाकरण नहीं हाे पा रहा है। जबकि अशोक नगर में एक भी केस नहीं मिला और गुना में केस की संख्या महज 9 है, लेकिन वैक्सीन की भरपूर उपलब्ता बताई जा रही है।

वर्जन-

वैक्सीन की उपलब्ध है, गुरुवार तक दो लाख से अधिक डोज ग्वालियर चंबल अंचल के लिए उपलब्ध हो जाएंगे। संदिग्ध पशुओं को रखने के लिए क्वारंटाइन सेंटर एक ओर बनाया जा रहा है। माधव नगर में जिस गाय की मौत हुई है, उसमें लंपी वायरस की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन मामला संदिग्ध है। इसलिए जांच के लिए नमूना लिया है। देरी से सूचना मिली और टीम के पहुंचने से पहले ही मौत हो गई।

डा अशोक तोमर , संयुक्त संचालक पशु चिकित्सा विभाग

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close