ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Debt waiver in Madhya Pradesh प्रदेश सरकार द्वारा चलाई गई ऋणमाफी योजना का लाभ जो किसान पिछली बार नहीं ले सके। वह किसान इस बार शुरू होने जा रही ऋणमाफी योजना में लाभ ले सकते हैं। इसके लिए किसान 15 से 31 जनवरी के बीच आवेदन कर सकते हैं। आवेदन उन्हीं किसानों का मान्य होगा जो पिछली बार किसी कारण से नहीं कर सके थे। इस तरह के जिले में 6 से 7 हजार किसान हैं।

गौरतलब है कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर मार्च में किसानों की ऋणमाफी की योजना प्रारंभ की गई थी। इस योजना के तहत 31 मार्च तक प्रदेश के सभी किसानों के खाते में ऋणमाफी का लाभ पहुंचना था। लेकिन लाभ की राशि पहुंचाने का सिलसिला अभी भी जारी है।

पुरानी कहानी अभी पूरी नहीं हो सकी और सरकार इस बार फिर ऋणमाफी योजना की शुरूआत करने जा रही है। इस बार 2 लाख तक का लाभ बंद खाता धारकों (डिफॉल्टर)और चालू खाता धारकों को एक लाख तक का लाभ मिलेगा, जबकि यह राशि पिछली बार 50 हजार रखी गई थी।

60 हजार किसानों ने किए थे आवेदन

जिले के 60 हजार से अधिक किसानों ने ऋणमाफी के लिए मार्च में आवेदन किया था। जिसमें साढ़े 11 हजार किसानों ने गुलाबी फार्म भरे थे। सफेद फार्म भरने वालों को ऋणमाफी का लाभ मिल चुका है। गुलाबी फार्म वाले किसानों को शॉर्ट लिस्ट कर उनके खाते में ऋणमाफी का लाभ पहुंचाया जा रहा है।

करीब साढ़े 6 हजार किसान फिर भरेंगे फार्म

पिछली बार करीब साढ़े 6 हजार किसान ऋणमाफी का लाभ लेने से वंचित रह गए थे। ऐसे किसान इस बार आवेदन कर ऋणमाफी का लाभ ले सकेंगे। यह वह किसान हैं जिनका खाता तो है पर वह निवास कहीं अन्य स्थान पर करते हैं । कई किसान ऐसे में जिन्होंने अपनी जमीन बंटाई पर दे दी और खुद दूसरे शहरों में काम कर रहे हैं। इस बार छूटे गए सभी किसानों को लाभ मिलेगा।

इनका कहना है

पिछली बार जो किसान ऋणमाफी का फार्म नहीं भर सके थे। वह इस बार भरकर ऋणमाफी का लाभ ले सकते हैं। 15 से 31 जनवरी के बीच अपने नजदीकी कृषि केन्द्र पर फार्म भरकर जमा कर सकते हैं।

आनंद बड़ोनिया, कृषि अधिकारी

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket