ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आगामी समय में आगामी 7 अक्टूबर से ग्वालियर में अग्निवीरों की भर्ती होगी। इस भर्ती पर ड्रोन से निगरानी होगी। हालांकि अभी तक की सेना की भर्ती में ऐसा नहीं होता था। लेकिन अग्निपथ योजना का ग्वालियर में सबसे अधिक विरोध हुआ था। इसलिए अग्निवीर भर्ती में सेना सुरक्षा के अतिरिक्त प्रबंध कर रही है और पूरी भर्ती प्रक्रिया पर ड्रोन से निगरानी की जाएगी। भर्ती स्थल से लेकर आसपास के एक किलोमीटर क्षेत्र में ड्रोन उड़ाया जाएगा, इससे यह देखा जाएगा कि कहीं युवक इकठ्ठे तो नहीं हो रहे। मुरार केंटोनमेंट स्थित सेना भर्ती कार्यालय के अफसरों का कहना है- पहली बार अग्निवीर भर्ती रैली में ड्रोन का इस्तेमाल होने जा रहा है, मध्यप्रदेश में इससे पहले धार में अग्निवीर भर्ती रैली हुई, लेकिन यहां ड्रोन का इस्तेमाल नहीं किया गया था। ऐहतियात बरतने के पीछे वजह है- कहीं भर्ती रैली के दौरान युवक भड़क न जाएं। इसलिए सेना के अधिकारी पुलिस की भी मदद ले रहे हैं।

ग्वालियर, भिंड, मुरैना, श्योपुर, दतिया, अशोकनगर, गुना, शिवपुरी, दमोह, सागर, पन्ना, टीकमगढ़, छतरपुर, निवाड़ी जिलों के युवकों के लिए सागर में 7 से 16 अक्टूबर के बीच अग्निवीर भर्ती परीक्षा होगी। अभी शारीरिक प्रवीणता परीक्षा होगी। अब भर्ती रैली में महज 20 दिन ही शेष रह गए हैं। भर्ती रैली में करीब 73 हजार अभ्यर्थी शामिल होंगे, इसलिए सेना के अधिकारी तैयारियों में लगे हैं। इस संबंध में ग्वालियर के मुरार केंटोनमेंट स्थित सेना भर्ती कार्यालय के अधिकारियों का कहना है- 1 अक्टूबर तक तैयारी पूरी कर ली जाएगी। ग्वालियर-चंबल अंचल में अग्निपथ का विरोध हुआ था, इसलिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं। ड्रोन से निगरानी के अलावा भर्ती स्थल के आसपास पुलिस फोर्स लगवाया जाएगा। एक किलोमीटर तक के क्षेत्र में यहां निगरानी रखी जाएगी, कहीं भी भीड़ इकठ्ठी नहीं होने दी जाएगी।

रेलवे को लिखा पत्र- सागर जाने वाली ट्रेनों में लगाएं अतिरिक्त सामान्य कोच: सेना के अफसरों ने रेलवे को पत्र लिखा है कि सागर जाने वाली ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाए जाएं। साथ ही आरपीएफ और जीआरपी को सुरक्षा के इंतजाम बढ़ाने के लिए पत्र लिखा है। क्योंकि ट्रेनों में कई बार सेना भर्ती में शामिल होने आए युवकों ने उत्पात मचाया था।

20 सितंबर तक जारी होंगे एडमिट कार्ड: 3 सितंबर तक आनलाइन पंजीयन हुए। अब अभ्यर्थियों को एडमिट कार्ड जारी होना शुरू हो गए हैं। 10 सितंबर से एडमिट कार्ड जारी होने लगे। 20 सितंबर तक सभी को एडमिट कार्ड जारी हो जाएंगे।

सुबह 7 बजे से प्रारंभ होगी भर्ती, हर दिन शामिल होंगे 5500 अभ्यर्थी: हर दिन सुबह 7 बजे से भर्ती प्रारंभ होगी। औसतन 5500 अभ्यर्थी हर दिन शारीरिक परीक्षा के लिए पहुंचेंगे। कुछ दिन अधिक संख्या भी हो सकती है।

पहली बार अग्निवीर भर्ती परीक्षा में ड्रोन से निगरानी होगी। यह इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि अग्निपथ स्कीम का विरोध सबसे ज्यादा ग्वालियर, चंबल अंचल में हुआ था। यहां के युवा भर्ती में शामिल होंगे। एक किलोमीटर के दायरे में ड्रोन उड़ाया जाएगा। अभ्यर्थियों से यह भी अपील है कि अगर किसी ने अपनी उम्र छिपाकर, दस्तावेजों में हेराफेरी कर आवेदन किया है, वह शामिल न हों क्योंकि पूरी प्रक्रिया आनलाइन है। ऐसे अभ्यर्थी पकड़े जा रहे हैं। इन पर सख्त कार्रवाई हो रही है।

कर्नल संतोष कुमार, डायरेक्टर, सेना भर्ती कार्यालय

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close