ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। घाटीगांव की दुरसेड़ी पंचायत में आधी रात को मतपेटी लूटकर मतपड फाड़ने और जलाने वाले आठ आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसमें सरपंच प्रत्याशी का पति भी शामिल है। इन लोगों ने पहले गोलियां चलाई थीं, इसके बाद पत्थर मारकर मतदान केंद्र का दरवाजा तोड़ा। अंदर घुसकर मतपेटी लूटी और मतपत्र फाड़े और जलाए। इस मामले में घाटीगांव पुलिस ने लूट, शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न करने और बलवा की धाराओं में एफआइआर दर्ज की है। आरोपितों से इनके और साथियों के बारे में पूछताछ की जा रही है, जिससे इन्हें भी जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जा सके।

घाटीगांव थाना प्रभारी शैलेंद्र सिंह गुर्जर ने बताया कि घाटीगांव की दुरसेड़ी पंचायत से नीतू गुर्जर और फूलबती बघेल सरपंच का चुनाव लड़ रही थीं। रात में मतगणना के बाद फूलबती जब जीतने लगी तो नीतू के पति रविंद्र और उसके साथियों ने हंगामा शुरू कर दिया। इनकी मांग पर दोबारा मतगणना कराई गई। दोबारा मतगणना संपन्न हाेने के बाद भी फूलबती को अधिक मत मिले थे। इसके बाद मतदान दल मतपेटियां लेकर रवाना होने की तैयारी कर रहा था। तभी रविंद्र गुर्जर और उसके साथी इकठ्ठे हो गए। पहले दो फायर किए, फिर बड़े-बड़े पत्थर उठाकर गेट तोड़ दिया। इसके बाद अंदर घुसे और मतपेटी लूटकर भागे। पीठासीन अधिकारी विजय नारायण पर भी हमला कर दिया। मतपेटी लूटकर यह लोग भागे। यहां पुलिस फोर्स पहले से मौजूद था। पुलिस फोर्स ने इनकी घेराबंदी शुरू की तो यह लोग मतपेटी फेंककर भाग गए। इससे पहले मतपत्र फाड़े और जलाए भी। इन लोगों ने मतपेटी कुएं में फेंकने की कोशिश की। पुलिस ने पहले मतपेटी जब्त की। रात में ही पुलिस और प्रशासनिक अफसर तत्काल मौके पर पहुंचे। इस मामले में लूट, शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न करने और अन्य धाराओं में एफआइआर दर्ज की। रात से ही पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही थी। रविवार को भी दिनभर इनकी तलाश में दबिश चली। शाम तक पुलिस ने आठ आरोपितों को पकड़ लिया था।

यह हुए गिरफ्तार:

पुलिस ने शनिवार शाम तक मुख्य आराेपित रविंद्र गुर्जर के अलावा उसके साथी मुनेश गुर्जर, छोटू गुर्जर, कल्याण उर्फ कल्लू गुर्जर, केदार गुर्जर, जरदान गुर्जर, बंटी गुर्जर और योगेंद्र गुर्जर को गिरफ्तार कर लिया है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close