Fight with sub-inspector in Gwalior: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जनकगंज इलाके में एक सब इंस्पेक्टर के साथ बीच सड़क पर मारपीट हो गई। सब इंस्पेक्टर मिक्सर सुधरवाने के लिए यहां आया हुआ था, इसी दौरान एक दुकानदार ने गाड़ी रखने को लेकर उससे अभद्रता कर दी। जब उसने विरोध किया तो दुकानदार और उसके साथियों ने पीटा। बाद में जब पता लगा कि वह सब इंस्पेक्टर है तो यह लोग शांत हो गए। लेकिन इसके बाद सब इंस्पेक्टर एफआइआर पर अड़ गया। इसमें से एक आरोपित भाजपा नेता का भतीजा बताया गया है। राजीनामा कराने के लिए भी भाजपा नेता जनकगंज थाने पहुंचे, लेकिन सब इंस्पेक्टर पीछे नहीं हटा। सब इंस्पेक्टर की शिकायत पर जनकगंज पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर ली है।

जनकगंज थाना प्रभारी आलोक सिंह परिहार ने बताया कि बहोड़ापुर स्थित पुलिस लाइन में रहने वाला जयकिशोर राजौरिया मप्र पुलिस में सब इंस्पेक्टर है। उसकी पोस्टिंग अशोकनगर में है। वह अवकाश पर ग्वालियर आया हुआ था। घर पर मिक्सर खराब हो गया, इसके चलते वह मिक्सर सुधरवाने के लिए जनकगंज इलाके में पहुंचा। यहां निरंकारी बैकरी के पास स्थित दुकान पर वह मिक्सर सुधरवाने के लिए जा रहा था। उसने यहां गाड़ी खड़ी कर दी। इसी दौरान दुकानदार ने उसे टोका। इसी बात पर बहस हो गई। इसके बाद तो दुकानदार ने साथियों को बुला लिया और सब इंस्पेक्टर की मारपीट कर दी। सब इंस्पेक्टर थाने पहुंचा। यहां मारपीट करने वालों के समर्थन के लिए भाजपा नेता भी पहुंच गए। लेकिन सब इंस्पेक्टर नहीं माना, इस पर जनकगंज पुलिस ने पीयूष गर्ग, निशीकांत, आशीष जैन, विशाल व एक अज्ञात युवक पर एफआइआर दर्ज की है। इस मामले में दिनभर थाने पर हंगामा चलता रहा।

भाजपा जिलाध्यक्ष निकले तो राजीनामा कराने लगाई गुहार: जब यह लोग थाने पहुंचे तभी भाजपा जिलाध्यक्ष अभय चौधरी वहां से गुजर रहे थे। इस पर इन लोगों ने राजीनामा कराने की गुहार लगाई। लेकिन सब इंस्पेक्टर ने राजीनामा करने से इंकार कर दिया।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close