- जीयू में अब काॅमन यूनिवसिर्टी एंट्रेस टेस्ट के माध्यम से प्रवेश दिया जाएगा।

- टेस्ट में जो नंबर आएंगे, उसके अनुसार मेरिट लिस्ट तैयारी की जाएगी।

ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। जीवाजी विश्वविद्यालय में इस बार स्नातक स्तरीय पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए फार्म भरने की प्रक्रिया पूरी हो गई है। अब प्रवेश टेस्ट की तैयारी चल रही है। यह टेस्ट सीयूईटी. (काॅमन यूनिवसिर्टी एंट्रेस टेस्ट) के माध्यम से प्रवेश दिया जाएगा। यह टेस्ट नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के माध्यम से लिया जाएगा जो कि नीट, नेट जैसे बड़ी प्रतियोगी परीक्षाएं सम्पन्न कराती है। इसके लिए छात्र-छात्राओं को अपने पसंदीदा कोर्स में प्रवेश के लिए आनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया है। उसमें देशभर के विश्वविद्यालयों की सूची में से अपने पसंदीदा विश्वविद्यालय के नाम भी भरने होंगे। उसके बाद एंट्रेस एग्जाम की तिथि आनलाइन ही बता दी जाएगी। उस निधार्रित तिथि पर सभी अभ्यथिर्यों को प्रवेश परीक्षा देनी होगी। परीक्षा में पास विद्यार्थीृ को मेरिट के आधार पर उक्त कोर्स में प्रवेश मिल सकेगा।

कोविड-19 के संक्रमण के चलते पिछले दो साल से जेयू ने प्रवेश टेस्ट लेना बंद कर दिया था। मेरिट के अाधार पर प्रवेश मिलते थे, लेकिन इस बार यूजीसी के निर्देश पर सीयूईटी के माध्यम से प्रवेश परीक्षा कराई जा रही है। इसके कराए जाने से ज्यादा ज्यादा विद्यार्थियों के अाने की संभावना है। नेशनल पोर्टल पर जीवाजी विश्वविद्यालय दिख रहा है। जिसे देशभर के विद्यार्थी देख रहे हैं। टेस्ट से प्रवेश दिया जाएग। टेस्ट में जो नंबर अाएंगे, उसके अनुसार मेरिट लिस्ट तैयारी की जाएगी।

प्रवेश परीक्षा दो पालियों में होगी

सत्र 2022-23 में प्रवेश के लिए परीक्षा दो पालियों में होगी। पहली सुबह 9 से दोपहर 12.15 तक, दूसरी दोपहर 3 से शाम 6.45 तक। यह परीक्षा आनलाइन ही होगी, जिसमे 75 प्रश्नों को आब्जेक्ट रूप से हल करना होगा। प्रवेश परीक्षा में माइनस मार्किंग भी होगी। यह जानकारी प्रेस कान्फ्रेंस में कुलपति प्रो अविनाश तिवारी, कुलसचिव डॉ सुशील मन्डेरिया ने दी।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close