Fine on milk dairy in Gwalior: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि) नगर निगम के अपर आयुक्त अतेंद्र सिंह गुर्जर ने बुधवार की सुबह शहर में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्हें जहां भी गंदगी मिली, वहां पर गंदगी फैलाने वालों को कड़ी फटकार लगाई। साथ ही नियमित रूप से सही समय पर टिपर वाहनों को क्षेत्रों में पहुंचाने के निर्देश अधिकारियों को दिए।निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त ने गुढ़ा-गुढ़ी का नाका स्थित डिवाइडर पर गीला कचरा पड़ा देखा। उन्होंने कचरा फेंकने वाले को बुलाया और उसे फटकार लगाई। इसके साथ ही दंड के रूप में उसी से सफाई कराई। इसके बाद वह वार्ड क्रमांक 55 में पहुंचे। यहां मां शीतला दूध डेयरी के संचालक द्वारा सड़क पर अतिक्रमण कर व्यापार किया जा रहा था। डेयरी संचालक ने सड़क पर दूध की कैन आदि रखी हुई थी। इसके अलावा वहां गंदगी भी फैला रखी थी। अपर आयुक्त द्वारा डेयरी संचालक से मौके पर सफाई कराई गई, साथ ही उस पर जुर्माना भी लगाया गया। वहीं सिटी सेंटर, चेतकपुरी रोड, सिकंदर कंपू, माधौगंज, वीरपुर कचरा स्टेशन का निरीक्षण कर सफाई रखने के निर्देश दिए।

डेंगू के डंक से 4 बीमार

ठंड का प्रकोप जैसे-जैसे बढ़ रहा है, डेंगू संक्रमण की रफ्तार घट रही है। बुधवार को जिला व गजरा राजा मेडिकल कालेज से आई जांच रिपोर्ट में चार डेंगू मरीज पाए गए। इसमें दो बच्चे व दो वयस्क लोग डेंगू की चपेट में पाए गए। जिले में अब तक डेंगू मरीजों की संख्या साढ़े छह सौ का आंकड़ा पार कर चुकी है, जिसमें 400 मरीज 18 साल से कम उम्र के है। डेंगू ने इस बार बच्चों को सबसे अधिक अपना शिकार बनाया है। मलेरिया अधिकारी का कहना है कि डेंगू का मच्छर ठंड में घर के अंदर ही छिपा रहता है, इसलिए घर के अंदर साफ पानी जमा न होने दें। बच्चों को पूरे आस्तीन के कपड़े पहनाकर रखें। बुधवार को ग्वालियर के 21 साल के हरिओम श्रीवास, 13 साल की सुरभी, 20 साल की विमल, 11 साल का नितेश डेंगू की चपेट में आ गया। इन्हें जब काफी दिनों के बाद भी बुखार नहीं टूटा तो डाक्टर के परामर्श पर डेंगू की जांच कराई गई। जांच रिपोर्ट में डेंगू की पुष्टि हुई, तब डेंगू का उपचार देना शुरू किया। मरीजों की हालत में अब सुधार बताया जा रहा है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close