-एस-2 कोच में सवार होकर अमृतसर के लिए निकली थीं बालिकाएं, आरपीएफ ने स्वजनों के सुपुर्द किया

ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। चोरी-छुपे छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में सवार होकर अमृतसर के लिए निकलीं छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव के दो गांवों की पांच बालिकाओं को आरपीएफ ने स्वजनों के सुपुर्द किया है। राजनांदगांव के बापूटोला की चार और आंवराटोला की एक युवती परिवार को बिना बताए घर से निकल गई थीं। इनमें तीन नाबालिग और दो बालिग हैं। राजनांदगांव पुलिस ने स्वजनों की शिकायत पर जब इन लड़कियों की लोकेशन और सीसीटीवी फुटेज खंगाली, तो इन लड़कियों को डोंगरगढ़ रेलवे स्टेशन से छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में बैठकर जाने की जानकारी लगी। वहां की पुलिस ने ग्वालियर आरपीएफ इंस्पेक्टर संजय कुमार आर्य को सूचना भेजी। इस आधार पर आरपीएफ ने एस-2 कोच से इन लड़कियों को उतार लिया था। बातचीत में पता चला कि ये लड़कियां अमृतसर जाकर काम तलाशना चाहती थीं। शुक्रवार को ये लड़कियां स्वजनों के पास पहुंच गईं।

राजनांदगांव की चिचोला पुलिस के पास शिकायत पहुंची थी कि दो गांवों की पांच बालिकाएं गायब हैं और उनका पता नहीं चल पा रहा है। चिचोला पुलिस ने जब जांच शुरू की, तो उनकी लोकेशन ट्रेस की। बालिकाओं की लोकेशन डोंगरगढ़ रेलवे स्टेशन के आसपास मिली। इसके बाद तत्काल पुलिस की टीम ने रेलवे स्टेशन और आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले। इसमें पता चला कि सभी बालिकाएं छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस ट्रेन में बैठकर रवाना हुई हैं। साइबर सेल द्वारा ट्रेन का लाइव लोकेशन ट्रेस किया। ट्रेन की लोकेशन झांसी और ग्वालियर के बीच होने से आरक्षक मनीष मानिकपुरी ने आरपीएफ क्राइम नागपुर के प्रभारी विकास सिंह से संपर्क कर सहायता ली। ग्वालियर आरपीएफ प्रभारी संजय कुमार आर्य को फोन कर जानकारी दी और ई-मेल के माध्यम से बालिकाओं का नाम, पता और फोटो भेजा। इसके बाद आरपीएफ की टीम ने ट्रेन के ग्वालियर स्टेशन पहुंचने पर सर्च अभियान चलाकर एस-2 बोगी से सभी बालिकाओं को सकुशल ट्रेन से उतार लिया।

ग्वालियर में लड़कियों को लेने आई छत्तीसगढ़ पुलिस

बालिकाओं के सुरक्षित होने की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव संतोष सिंह ने चिचोला पुलिस की टीम को ग्वालियर रवाना किया। स्थानीय पुलिस और आरपीएफ ग्वालियर की संयुक्त कार्रवाई से गुम की सूचना मिलने के कुछ घंटे में ही पांचों बालिकाओं को ढूंढ लिया। इसके बाद वहां की पुलिस टीम इन लड़कियों को लेकर शुक्रवार को राजनांदगांव पहुंच गई। इस कार्रवाई में आरपीएफ निरीक्षक ग्वालियर संजय कुमार सहित चिचोला पुलिस चौकी प्रभारी आरएस सेंगर के साथ प्रभारी साइबर सेल द्वारिका प्रसाद लाउत्रे, आरपीएफ क्राइम प्रभारी नागपुर विकास सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close