Flood in Gwalior Chambal Zone: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्‍य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को ग्वालियर जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया। इसी दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बाढ़ प्रभावित गांव सिलाह भी पहुंचे। जहां मौजूद भितरवार के कांग्रेस विधायक लाखनसिंह यादव भी खड़े थे। तभी उन्होंने कहा कि देखिए लाखन सिंह जी तुम तो बुलाने गए नहीं हम खुद ही यहां आए हैं। तभी लाखन सिंह ने कहा कि आपके गृहमंत्री जी यहां आकर हमारी जनता का अपमान करके गए हैं। तभी मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां नेतागिरी नहीं ये तो अपन विधानसभा में कर लेंगे। जहां मौजूद कुछ लोगों ने लाखन सिंह के नाम में नारे लगाए।

मुख्यमंत्री ने चांदपुर गांव में बाढ़ प्रभावित लोगों से बात की और हरसंभव मदद करने की बात कही। ट्रॉली पर खड़े होकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के सर्वे के आधार पर आकलन कर पीड़ितों को राहत राशि सहित अन्य सहयोग प्रदान किए जाएंगे।

गांव में कीचड़ भरे रास्ते से निकलकर हालात देखने पहुंचे

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को महिलाओं ने ढहे हुए आशियाने दिखाए। घरों में भरा कीचड़ दिखाया। गांव में करीब आधा फीट कीचड़ पसरा था, इसके बाद भी मुख्यमंत्री गलियों में हालात देखने पहुंचे। गांव के एक बाढ़ पीड़ित बंटी के कंधे पर हाथ रखकर कहा कि मैं हूं, चिंता मत करना। अगर मकान गिर गया है तो नया बन जाएगा। इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सिंध नदी के पुल पर हालात देखने पहुंचे। यहां से वे भितरवार, सिलाह, पलायछा आदि गांवों का निरीक्षण करने पहुंचे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local