ग्वालियर। नईदुनिया रिपोर्टर

नगर निगम ने मोतीमहल स्थित संग्रहालय का नया रूप देने की तैयारी शुरू कर दी है। आने वाले समय में संग्रहालय के नीचे स्थित तीन कमरों को ओपन किया जाएगा, जिन्हें तीन गैलरियों का रूप दिया जाएगा। तीनों गैलरियों में पेंटिंग, हथियार और प्रिजर्व किए पक्षियों के ढांचों को सैलानियों के लिए रखा जाएगा। इस पूरी प्रक्रिया पर पचास लाख रुपए का खर्च आ रहा है। रिनोवशन पुरातत्व से संबंधित काम करने वालीं कंपनी करेगी। जानकारी के अनुसार इस संग्रहालय का निर्माण के बाद कभी भी रिनोवेट नहीं किया गया। इसमें ऐसे ऐतिहासिक संग्रह को प्रदर्शित होने के लिए रखा जाएगा, जो अभी तक सैलानियों की नजरों से दूर है।

होगी नए ढंग से फिटिंग, इसलिए कुछ दिन रहेगा बंद

इस संग्रहालय की न सिर्फ तीन गैलरी ओपन की जा रही हैं, बल्कि पूरे कैंपस को भी रिनोवेट किया जा रहा है। इसकी पुरानी लाइट फिटिंग को उखाड़कर नए ढंग से प्रक्रिया पूरी की जाएगा, एक तरह से पावर सिस्टम तैयार किया जाएगा। सभी शोकेस के बाहर लगीं बड़े बल्व को हटाया जाएगा। उनकी जगह एलईडी बल्व लगाए जाएंगे, जिससे शाम के समय शोकेस में रखी वस्तु साफ और स्पष्ट नजर आए। रिनोवेशन के दौरान संग्रहालय को कुछ दिन के लिए बंद रखा जाएगा।

रात को बदला-बदला दिखेगा कैंपस

कैंपस के कुछ क्षेत्र में रात के समय प्रॉपर रोशनी न होने से रात के समय अंधेरा रहता है। वहां रोशनी की व्यवस्था होगी। जर्जर स्थिति में पहुंचे फब्बारों को संवारकर उन्हें ऑन किया जाएगा। रात के समय ठीक वैसा ही नजरा देखने को मिलेगा, जैसा हमें इटालियन गार्डन में दिखता है। इस साल के अंत तक नगर निगम का संग्रहालय सभी के सामने बदले हुए स्वरूप में होगी। स्थिति में सुधार होने से देसी-विदेशी सैलानियों की यहां पहुंचने वाली संख्या में वृद्घि होगी।

प्रमेश दत्त शर्मा, सहायक नोडल प्रभारी, ननि संग्रहालय

Posted By: Nai Dunia News Network