ग्वालियर (नईदुनिया रिपोर्टर)। लॉकडाउन के इस समय में लोग घर में बैठे हैं और अलग- अलग तरीके से अपनी जरूरतें पूरी कर रहे हैं। हममें से अधिकतर आज हर काम के लिए अपने मोबाइल पर निर्भर हैं। सोशल मीडिया पर यूजर वीडियो और पोस्ट के जरिए बता रहे हैं कि वे कैसे लॉकडाउन के इस कठिन समय में अपनी जरूरतें पूरी कर सकते हैं। आज हम भी बताएंगे उन एप के बारे में, जो मोबाइल फोन में होना जरूरी हैं। कोरोना से लड़ाई के बीच ये आपके काम आएंगे। इन्हें डाउनलोड कर आप मुश्किल वक्त आसानी से गुजार सकते हैं।

सोशल मीडिया एप

इसके जरिए आप अपने मन की बात को कई लोगों तक पंहुचा सकते हैं। सबसे लोकप्रिय सोशल मीडिया एप की बात करें तो फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और हैलो हैं। इनसे आप आसानी से पूरी दुनिया से जुड़ सकते हैं। ये एप आपके मोबाइल में होना जरूरी हैं। आपके कोरोना के मुश्किल दौर में लोगों को जागरूक करने के लए भी इनका यूज कर सकते है॥

ग्रॉसरी एप

अगर आप घर में सुरक्षित रहना चाहते हैं और बाहर नहीं निकल ऑनलाइन राशन मंगवाना चाहते हैं तो ग्रॉसरी एप आपके काम आ सकते हैं। दूध,ब्रेड, बटर जैसी चीजों के साथ- साथ यहां आपको किचन और घर से जुड़े तमाम सामान मिल जाएंगे। ग्रोफर्स , बिग बास्केट, फ्लिपकार्ट, ग्रॉसरी, अमेजॉन ग्रॉसरी और सुपरडेली कुछ ऐसे ही एप है।

घर बैठे लें अपने डॉक्टर की सलाह

कोरोना से बचने के लिए डॉक्टर्स और सरकार का कहना है कि कम से कम घर से बाहर निकलें। ऐसे में अगर आप डॉक्टर्स की सलाह लेना चाहते हैं तो कई ऐसे ऑनलाइन एप हैं, जहां मुफ्त कंसल्टेशन के साथ- साथ पेड कंसल्टेशन भी होता है। यानी ार में रहिए और डॉक्टर को भी दिखा लीजिए।

ऑनलाइन म्यूजिक एप

अगर आप गाने सुनने के शौकीन हैं, लेकिन आपके फोन में आपकी पसंद के गाने नहीं हैं या फिर स्पेस कम होने के कारण हर गाना डाउनलोड नहीं कर पा रहे हैं तो गाना म्यूजिक एप आपके काम आ सकता है। इसमें आपके मूड के हिसाब से लाखों गाने हैं। इसके लिए बस आपके फोन में एक चालू इंटरनेट कनेक्शन होना जरूरी है।

फिटनेस एप

लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए जिम को भी बंद कर दिया गया है। अगर आप फिटनेस फ्रिक हैं तो पर रहकर भी फिट रहना चाहते हैं तो कई सारे ऐसे एप हैं जो न केवल आपकी फिटनेस का ध्यान रखेंगे। बल्कि ये आपको योगाभ्यास और उससे जुड़ी जानकारी भी देंगे। गूगल फिट, रनकीपर, सेवन मिनट योगा कुछ ऐसे ही एप्स है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket