Guru Purnima 2021: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शिष्यों के हृदय में गुरु के प्रति कितना स्नेह और आदर है, स्पष्ट हुआ शुक्रवार को। इस दिन शहर के अलग-अलग स्थानों पर गुरुपूर्णिमा मनाई गई, लेकिन कोविड के नियमों का विशेष ध्यान रखा गया। मंदिरों पर अधिक भीड़ नजर नहीं आई। शहर के आस्था के केंद्र हाईकोर्ट स्थित गिरराज जी के मंदिर भक्त पहुंचे। यहां गिरराज जी अलग ही रूप में दिखाई दिए। सुबह तीन बजे उनका विशेष श्रंगार किया गया। सुबह 4:30 बजे मंदिर के पट भगवान के पट खोल दिए गए, फिर परंपरानुसार प्रसादी वितरण किया गया। पुलिस की रही मौजूदगी मंदिर में भक्तों की संख्या अधिक न हो इसके लिए पुलिस प्रशासन की मदद ली। भक्तों से पांच परिक्रमा लगाने की मना कर दी गई। शनिवार काे भी कई स्थानाें पर गुरू पूर्णिमा मनाई गई।

बाबा महाराज का पादुका पूजनः गुरुद्वारा फूलबाग व दाता बंदी छोड़ भी भक्त गुरु के चरणों में माथा टेकने पहुंचें। जनकगंज स्थित श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर में यह पर्व सादगी से मनाया गया। पंचांग के हिसाब से गुरु पूर्णिमा का पर्व दो दिन है, शनिवार को भी गुरु पूर्णिमा मनाई जाएगी। भक्तों ने संत गोलोक वासी श्री बाबा महाराज की चरण पादुका का अभिषेक चंदन इत्र से पूजन कर मंत्र का जाप किया। प्रसाद के रूप में मालपुए, पकोड़े और चाय बांटी गई।

शैक्षणिक संस्थानों में हुए कार्यक्रम : गुरु को समर्पित गुरुपूर्णिमा शक्षणिक संस्थानों में भी बनाई गई। कोविड के कारण लगभग कार्यक्रमों को आनलाइन रखा गया। इसमें शिष्यों ने अपनी भावनाओं को व्यक्त कर उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local