Gwalior Burning Car: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। फूलबाग पर शुक्रवार की रात को कार में अचानक आग लग गई। इसी बीच जबलपुर में पदस्थ फायरमैन सत्यम जायसवाल कार की लपटों से घिरी देखकर स्वयं को रोक नहीं पाया। सत्यम जायसवाल पास के शोरूम से अग्निशामक यंत्र मांगकर लाया और कार में लगी आग को बुझाया। कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने अपनी फेसबुक वॉल पर इस पर पूरे घटनाक्रम का उल्लेख करते हुए फायरमेन सत्यम जायसवाल के जज्बे को सलाम किया। फायरमैन अपनी मां आशा जायसवाल के सेवानिवृत्त होने पर आयाेजित विदाई पार्टी में शामिल होने के लिए आया था। आशा जायसवाल आइटीआइ (महिला) वाइस प्रिंसिपल के पद से रिटायर्ड हुई है।

खूबी की बजरिया सराफ हास्पिटल के पास निवासी आशा जायसवाल 31 जुलाई को आइटीआइ(महिला) वाइस प्रिसिंपल के पद से रिटायर्ड हुई हैं। 30 जुलाई को आइटीआइ में उनकी विदाई पार्टी थी। आशा जायसवाल का बड़ा बेटा सत्यम जायसवाल भी मां की विदाई पार्टी में शामिल होने के लिए आया था। विदाई पार्टी से लौटते समय फूलबाग चौराहे पर एक कार में लगी आग को देखकर स्वयं को रोक नहीं पाया, सत्यम ने इधर-उधर देखा ताे उसे सामने कार शोरूम नजर आया। वहां से वह अग्निशामक यंत्र मंगाकर लाया और उसने मौके पर फायर बिग्रेड के पहुंचने से पहले आग को बुझा दिया। हालांकि दमकल दस्ते ने भी दावा किया है कि कार को आधी गाडी़ पानी से बुझाया है। सत्यम का कहना है कि वह कार को आग की लपटों से घिरी देखकर स्वयं को रोक नहीं पाया और उसने अपने स्तर पर कार में लगी आग को बुझाने का प्रयास किया। मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि जलती हुई कार के पास में ही पेट्रोल पंप भी था।अगर गाड़ी में ब्लास्ट होता तो गंभीर हादसा हो सकता है।

यह था घटनाक्रमः आनंद श्रीवास्तव परिवार के साथ बाजार घूमने के लिए निकले थे। शुक्रवार की रात को सवा आठ बजे के लगभग उनकी चलती हुई कार में फूलबाग में अचानक आग लग गई। आनंद श्रीवास्तव ने कार को रोककर सबसे पहले बच्चों को गाड़ी से उतारकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। दो-तीन मिनिट में आग की लपटों से कार चारों तरफ से घिर गई। कार में लगी आग बुझाने का प्रयास करने की बजाए कुछ लोग वीडियो बना रहे थे, कुछ तमाशा देख रहे थे। ऐसे में सत्यम ने कार में लगी आग को बुझाकर अपना कर्तव्य निभाया।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local