-दाल बाजार रहा बंद, राजीव प्लाजा में नहीं रहा साप्ताहिक अवकाश,

- नया बाजार व लोहिया बाजार में भी कुछ दुकानें खुली रहीं

Gwalior Business News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। अप्रैल माह के बाद करीब 3 महीने बाद ग्वालियर में रविवार को बाड़ा समेत विभिन्न बाजार खुले। उम्मीद की जा रही थी कि पहले दिन रविवार को बंपर व्यापार होगा, मगर ऐसा नहीं हुआ। आशंका थी कि रविवार को अवकाश होने के कारण बाजारों में अत्याथिक भीड़ उमड़ेगी। इसके उलट अन्य दिनों के मुकाबले बाजारों में कम भीड़ रही। इसे लेकर व्यापारियों का कहना है कि लोगों को मालूम ही नहीं लग सका कि, अब रविवार को भी बाजारों को खोला जा रहा है। ऐसे में बहुत कम लोग रविवार को घर से बाहर खरीदारी करने निकले हैं। जिसके कारण अनलाक के पहले रविवार को संतोषजनक व्यापार ही हुआ है।

टोपी बाजार स्थित बालाजी एंपोरियम के संचालक रमेशचंद अग्रवाल उर्फ लल्ला भैया ने बताया कि रविवार को बाजार खुल जाने से ऐसे ग्राहक अधिक आए, जो शासकीय सेवाओं में हैं। उन्हें रविवार लाकडाउन खत्म होने की जानकारी मिल गई थी, ऐसे में उन्होंने अपने अवकाश का फायदा उठाते हुए खरीदारी की। हालांकि उम्मीद के मुताबिक अधिक लोग बाजार में नहीं आए, क्योंकि उन्हें बाजार खुलने का मालूम ही नहीं चला। हालांकि यह तय है कि अगले रविवार को अच्छा कारोबार होगा।

वहीं शहर के कई ऐसे बाजार जिनका रविवार को साप्ताहिक अवकाश रहता है, वहां के कई व्यापारियों ने अपनी दुकानों को खोल लिया। जयेंद्रगंज स्थित राजीव प्लाजा की ज्यादातर दुकानें साप्ताहिक अवकाश के बाद भी खुली रहीं। लोहिया बाजार व नया बाजार में भी कुछ दुकानें खुली हुई थीं। हालांकि दाल बाजार की सभी दुकानें बंद थीं।

चैंबर आफ कामर्स के मानसेवी सचिव डा.प्रवीण अग्रवाल का कहना है कि बाजार जितनी अधिक अवधि के लिए खुलेंगे, उतनी ही भीड़ कम होगी। इसका प्रमाण है कि रविवार को बाजारों में भीड़ कम रही। ऐसे में प्रशासन को चाहिए कि दुकानें 10 बजे तक खोले जाने की मंजूरी प्रदान की जाए, साथ ही रात्रिकालीन कर्फ्यू के संदर्भ में स्पष्ट आदेश निकाला जाए। अग्रवाल का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए जरूरी है कि सभी लोग मास्क लगाएं एवं वैक्सीनेशन कराएं, बाजारों को बंद करने से कुछ नहीं होगा। रेस्टारेंट आदि भी रात 10 बजे तक खोलने की मंजूरी प्रदान की जाना चाहिए। क्योंकि व्यापारी वर्ग अपनी दुकानों को बंद करने के बाद ही परिवार के साथ खाना खाने पहुंचेगा।

-फुटपाथ दुकानों पर रही रोजाना जैसी भीड़

टोपी बाजार, नजरबाग मार्केट, सुभाष मार्केट, गांधी मार्केट आदि बाजारों में जहां अन्य दिनों की अपेक्षा कम भीड़ देखने को मिली। वहीं नजरबाग, सुभाष मार्केट के सामने लगने वाले फुटपाथ बाजार में लोगों की खासी भीड़ देखने को मिली। रविवार को भी फुटपाथ बाजार में लोगों की भीड़ के कारण शारीरिक दूरी का बिल्कुल पालन नहीं हो रहा था, और न लोग मास्क लगाए हुए थे।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local