Gwalior Child Kidnap and Murder News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। गिरवाई थाना क्षेत्र के तहत वीरपुर बांध इलाके में रहने वाले 11 साल के बच्चे का पहले अज्ञात अपहरणकर्ताओं ने बुधवार को अपहरण किया और हत्या कर दी। बच्चे का चेहरा पत्थर से कुचला गया है और गड्ढे में दफनाया गया है। हत्या होने व शव मिलने की खबर 22 घंटे बाद मिली। मामले की जांच में पुलिस जुट गई है। साथ ही आरोपित को तलाशना शुरू कर दिया है। पुलिस जांच में फोरेंसिक एक्सपर्ट की भी मदद ले रही है।

मासूम का शव अजयपुर पहाड़ी पर मिला है। गांववाले ने शव देखकर पुलिस को सूचना दी। जांच में खुलासा हुआ कि बच्चे की पहचान न हो इसलिए अपराधियों ने उसके चेहरे को पत्थर से कुचल दिया और फिर शव को पहाड़ी पर ही एक गड्ढे में दफना कर ऊपर से पत्थर रख दिया। वीरपुर बांध इलाके में रहने वाला राजेन्द्र उर्फ कल्याण सिंह प्राइवेट कंपनी में काम करता है। परिवार में पत्नी के अलावा दो बच्चे हैं। बड़ा बेटा 11 साल का अमित बघेल पास ही के स्कूल में कक्षा 2 का छात्र था। बुधवार दोपहर 2 बजे अमित घर से कुरकुरे लेने के लिए निकला था। इसके बाद वह वापस नहीं लौटा। देर शाम तक बच्चा वापस नहीं आया, तो परिजनों ने तलाश शुरू की, लेकिन उसका पता नहीं चला। इसके बाद उन्होंने मामले की सूचना गिरवाई थाने में दी। पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए अपहरण का मामला दर्ज किया। पुलिस ने अपने स्तर पर पड़ताल शुरू की।

ग्रामीण ने सूचना दी शव की: लापता होने के 22 घंटे के बाद गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे पुलिस को किसी गांव वाले ने सूचना दी कि अजयपुर की पहाड़ी पर गड्‌ढे में शव पड़ा है। ऊपर से भारी पत्थर रखे हैं। सूचना के बाद एसपी अमित सांघी, सीएसपी लश्कर आत्माराम शर्मा, थाना प्रभारी गिरवाई सब इंस्पेक्टर रघुवीर मीणा फोर्स के साथ स्पॉट पर पहुंचे। यहां शव को निगरानी में लेकर पड़ताल शुरू की। मृतक की पहचान 11 साल के अमित के रूप में होने के बाद तत्काल फोरेंसिक एक्सपर्ट अखिलेश भार्गव को बुलाया गया।

बेरहमी से की गई है हत्या: एक्सपर्ट के मुताबिक पहले बच्चे के सिर पर पत्थर से वार किया गया है। इसके बाद उसके ऊपर कपड़े की दरी डाली गई है फिर भारी पत्थर से कुचल गया है। इसके बाद गड्‌ढे में दफनाया गया है। उसका चड्ढा आधा उतरा हुआ है, लेकिन अंडर गारमेंट्स सही है। दुष्कृत्य की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। जिस जगह हत्या कर दफनाया गया है, वह कब्रिस्तान है। उस पहाड़ी पर आसपास और भी शव दफनाए जाते हैं, इसलिए वहां दिन और रात के समय कोई आता-जाता नहीं है। मृतक के स्वजन ने पुलिस को बताया कि पड़ोसियों ने उन्हें बताया था कि जहां पर बच्चे खेल रहे थे, वहां काफी देर से एक बाइक सवार खड़ा था। उसकी बाइक पर डलिया बंधी थी। जब वह वहां से जा रहा था, तो डलिया पर कपड़ा पड़ा था। पड़ोसियों ने उसे रोकने का प्रयास किया, तो वह बाइक लेकर भाग गया। संदेह है कि बच्चे को उक्त बाइक सवार ही ले गया है। पुलिस भी बाइक सवार की तलाश कर रही है।

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags