Gwalior Cleanliness Campaign News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर की हर गली में राेज सुबह गूंजने वाला गाड़ी वाला आया घर से कचरा निकाल...गाना इन दिनाें हफ्ते में केवल एक दिन ही सुनाई दे रहा है। क्याेंकि निगम के पास पर्याप्त वाहन ही नहीं है, इसलिए डाेर टू डाेर कचरा कलेक्शन की व्यवस्था पूरी तरह चाैपट हाे गई है। घर में रखा कचरा सड़ने पर लाेग अब उसे खुले में फेंकने लगे हैं। स्वच्छता रैकिंग के लिए जल्द ही सर्वे हाेना है, एेसे में डाेर टू डाेर कचरा कलेक्शन की व्यवस्था फेल हाेना निगम के लिए बड़ी परेशानी बन सकता है।

ईकोग्रीन कंपनी द्वारा काम छोड़ दिए जाने के बाद शहर की सफाई व्यवस्था पटरी पर नहीं आ पा रही है। हालत यह है कि जिन वार्डाे में ईकोग्रीन की गाड़ियां प्रतिदिन पहुंचती थी, वहां पर अब सप्ताह में एक दिन ही गाड़ी आ पा रही है। इसके कारण आमजन कचरे को निगम की डोर टू डोर टिपर वाहनों में डालने की जगह खुले में फैंक रहे हैं। खुले में फैंके गए कचरे को निगम के कर्मचारी समेट कर बाहर ठीयों पर ले जाकर डाल रहे हैं, लेकिन समय पर जेसीबी और डंपर नहीं मिल पाने के कारण सड़कों पर भी कचरा दो से तीन दिनों तक पड़ा रहता है।

इन विधानसभाओं में यह है वाहनों की स्थिति

ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र

जेसीबी डंपर, मिनी डंपर, टिपर ट्रेक्टर ट्रॉली बोलेरो

6 7 7 37 9 2

ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र

जेसीबी डंपर, मिनीडंपर टिपर ट्रेक्टर ट्रॉली बोलेरो

3 7 4 43 9 1

दक्षिण विधानसभा क्षेत्र

जेसीबी डंपर, आयशर , टिपर ट्रेक्टर ट्रॉली बोलेरो

4 6 3 24 9 4

वर्जन

निगम में जल्द ही नई गाड़ियां आ जाएगी। साथ ही जो गाड़ियां खराब पड़ी हैं, वह भी ठीक कराई जा रही हैं। इससे काफी हद तक वाहनों की समस्या हल हो जाएगी।

शिवम वर्मा, निगमायुक्त

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस